जौनपुर: महिला से लूट की सूचना को दबाना सिपाही को पड़ा भारी

जौनपुर: महिला से लूट की सूचना को दबाना सिपाही को पड़ा भारी

# लूट की घटना में सिपाही की भूमिका संदिग्ध, एसपी ने किया लाइन हाजिर

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                 सरपतहां थाना क्षेत्र में बीते 13 अक्तूबर को महिला से दिनदहाड़े हुई लूट मामले में एक सिपाही पर गाज गिरी है। पुलिस चौकी सरायमोहिउद्दीनपुर पर तैनात सिपाही अमरजीत यादव को पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी ने लाइन हाजिर कर दिया। घटना में सिपाही की भूमिका संदिग्ध पाई गई थी। आरोप है कि सिपाही ने घटना की जानकारी उच्चाधिकारियों को चार घंटे बाद दी थी।

गैरवाह गांव निवासी सुरसत्ती देवी पत्नी हिरजू अपने पौत्र प्रिंस को साथ लेकर गुड़बड़ी बाजार स्थित बैंक से प्रधानमंत्री आवास की किस्त निकालने गई थी। वहां से 30 हजार निकालकर जब वह वापस घर लौट रही थी तो रास्ते में घूरीपुर व नजोपुर गांव के बीच एक सुनसान स्थान पर बाइक सवार बदमाशों ने घेर लिया। तमंचे के बल पर पैसे छीनकर फरार हो गए थे। पीड़िता के पौत्र ने घटना की सूचना तत्काल वापस लौटकर शाखा पर तैनात एक सिपाही को दी। आरोप है कि इसके बाद वहां उपस्थित सिपाही अमरजीत यादव घटनास्थल पर गया। लेकिन, उसने मामले की जानकारी न सिर्फ उच्चाधिकारियों से छिपाई बल्कि पीड़िता का मोबाइल भी यह कहकर बंद करवा दिया कि इस संबंध में किसी से भी कुछ मत कहना।

# ग्राम प्रधान ने दी घटना की जानकारी

घटना की सूचना चार घंटे बाद ग्राम प्रधान विजय सिंह के माध्यम से क्षेत्राधिकारी अंकित कुमार को हुई। इसके बाद पुलिस बदमाशों की तलाश में सक्रिय हुई। सीओ अंकित ने बताया कि लूट की जानकारी देर से देने की वजह से अमरजीत यादव के खिलाफ कार्यवाही हुई है।
Previous articleजौनपुर : दो मंजिला जर्जर मकान धराशाई, पांच लोगों की मौत, पांच घायल
Next articleजौनपुर : राजकीय मेडिकल कालेज में सौ सीटों पर होगा एमबीबीएस छात्रों का प्रवेश
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏