जौनपुर : “महीना में केतना दिन” वाले चर्चित दारोगा के किस्से पहुंचे आईजी, एडीजी वाराणसी तक..

जौनपुर : “महीना में केतना दिन” वाले चर्चित दारोगा के किस्से पहुंचे आईजी, एडीजी वाराणसी तक..

# शिकायत की चर्चा बनी नगर की सुर्खियां, दारोगा के कारखासों की बढ़ी बेचैनी…

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
              स्थानीय कोतवाली में तैनात एक चर्चित दारोगा के चर्चे आईजी रेंज वाराणसी, एडीजी जोन वाराणसी, पुलिस अधीक्षक समेत जिलाधिकारी तक पहुंचे हैं और जौनपुर पुलिस के ट्विटर एकाउंट से जानकारी मिली कि उक्त चर्चित दारोगा पर लगाए गए आरोपों की जांच कर आख्या देने के लिए क्षेत्राधिकारी शाहगंज को निर्देशित किया गया है जिसकी चर्चा नगर में दो-तीन दिनों से सुर्खियों में है जिससे उक्त दारोगा के कारखासों में बेचैनी देखी जा रही है।

कोरोना कर्फ्यू के नाम पर व्यापारियों का उत्पीड़न करने वाले दारोगा की शिकायत व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों ने उप जिलाधिकारी राजेश कुमार वर्मा से की थी साथ ही व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने आईजी रेंज वाराणसी, एडीजी जोन वाराणसी, पुलिस अधीक्षक समेत जिलाधिकारी को ट्वीट कर शिकायत दर्ज कराई थी। जिसका संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक राज करन नय्यर ने क्षेत्राधिकारी शाहगंज अंकित कुमार को आरोपों की जांच कर आख्या प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया है जिसकी चर्चा नगर में दो तीन दिनों से सुर्खियां बटोर रही है वहीं दारोगा के कारखासों में खासा बेचैनी देखी जा रही है।

उक्त दारोगा का खासा अंदाज है जिस कारण वह चर्चित हो गये हैं सूत्र बताते हैं कि साहेब हफ्ता नहीं लेते बल्कि फिल्मी स्टाइल में पूछते हैं कि “महीना में केतना दिन, ओतना लेके आ जाना” और उसके बाद जिन पर साहेब की कृपा दृष्टि हो जाती है वह कोरोना के गाइडलाइंस को ताक पर रखकर बेधड़क दुकान खोलकर दुकानदारी करते हैं वहीं जिन पर कृपा दृष्टि नहीं होती वह लोग साहेब के कोपभाजन का शिकार होते हैं।

दरोगा जी की हनक केवल गल्ला मंडी, गुप्ता गली, घास मंडी, चूड़ी मोहल्ला तक ही सीमित है जबकि कोतवाली रोड पर निर्बाध गति से चल रहे चाय, मिठाई व तमाम दुकानों का संचालन शायद साहब की मेहरबानी से हो रहा है। दारोगा के उगाही और उत्पीड़न के बाबत उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल की शाहगंज इकाई ने उच्चाधिकारियों से शिकायत की थी। फिलहाल.. अब देखना होगा कि उक्त चर्चित दारोगा पर पुलिस विभाग की क्या कार्यवाही होती है?
Previous articleजौनपुर : नामित अधिकारी ने ग्राम प्रधान व पंचायत सदस्य को दिलाया शपथ
Next articleजौनपुर : शाहगंज संस्कार ने वितरित किया समाचार वाहकों को कोरोना बचाव किट
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏