जौनपुर : मां दुर्गा इंटर कॉलेज में मिशन शक्ति अभियान के तहत मनाया गया अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस

जौनपुर : मां दुर्गा इंटर कॉलेज में मिशन शक्ति अभियान के तहत मनाया गया अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               मिशन शक्ति अभियान के तहत अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर मां दुर्गा इंटर कॉलेज में मेगा इवेन्ट आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करने वाली 150 ऐसी महिलाओं जिन्होंने नारी सशक्तिकरण क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किया उनको सम्मानित किया गया।

         
कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज विभाग उत्तर प्रदेश/प्रभारी मंत्री जनपद जौनपुर उपेंद्र तिवारी द्वारा दीप प्रज्वलित कर एवं मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया गया। इस अवसर पर राज्यमंत्री ने सभी को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर बधाई दी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि महिलाओं की प्रतिभा निखारने एवं नारी सशक्तिकरण के लिए उत्तर प्रदेश के प्रत्येक मुख्यालय में बड़े हर्षोल्लास के साथ अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य समाज में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित कर प्रोत्साहित करना है।

उन्होंने कहा कि बेटियां किसी को बोझ न लगे इसलिए प्रधानमंत्री जी द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना शुरू की गई तथा ’’दो बच्चों का निर्णय महान, बेटा-बेटी एक समान’’ का नारा दिया। नारी सशक्तिकरण तथा महिला सम्मान के लिए ’’बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’’, ’’कन्या सुमंगला योजना’’ बाल संरक्षण सेवा, रानी लक्ष्मी बाई महिला एवं बाल सम्मान कोष तथा अन्य योजनाएं चलाई गई जो महिलाओं पर आधारित है। महिला शक्ति का सम्मान बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा कार्य किया गया। उन्होंने कहा कि आज नारी क्षमता को पहचानने की आवश्यकता है। आज महिलाएं हर क्षेत्र में बढ़ चढ़कर कार्य कर रही हैं तथा सफलता पा रही हैं। राज्यमंत्री ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा 180 दिनों के लिए प्रदेश के सभी जिलों में मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है, जिससे महिलाओं को जागरूक तथा सशक्त किया जा सके।

विधायक मड़ियाहूं लीना तिवारी ने कहा कि अक्सर जिनकी प्रशंसा को हम अनकही शब्दों पर छोड़ देते हैं आज हम सब मिलकर उस नारी को नमन करते हैं। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस का इतिहास 108 साल पुराना है और इसकी पहली शुरुआत 1909 में हुआ था, जब वहां की महिलाएं अपने अधिकार की रक्षा के लिए सड़कों पर उतर आई थी। लेकिन इसको सही आयाम 1975 में संयुक्त राष्ट्र ने दिया तब से लेकर आज तक इस दिन को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाता है। विधायक जफराबाद डॉ हरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा महिलाओं के लिए विभिन्न योजनाएं चला रही हैं। उन्होंने कहा कि हमारी बहनें हर क्षेत्र में आज कार्य कर रही है और सरकार भी पूरी तरह से उनका सहयोग कर रही है। सरकार ने महिलाओं के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित की है।

             
जिला प्रोबेशन अधिकारी संतोष कुमार सोनी ने सरकार द्वारा महिलाओं से सम्बन्धित चलाई जा रही योजनाओं के सम्बन्ध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा शरदीय नवरात्रि से लेकर चेत नवरात्रि तक कुल 180 दिन का महिलाओं के लिए कार्यक्रम चलाया जा रहा है जिसमें 26 विभाग सम्मिलित है। इस कार्यक्रम के माध्यम से महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने, भ्रूण हत्या को रोकने तथा लैंगिक असमानता के विषय में चर्चा करना तथा महिलाओं के बारे में कानूनों की जानकारी दी जायेगी।

उन्होंने कहा कि अभी तक जनपद में 467 विद्यालयों के माध्यम से दो लाख से ज्यादा बच्चियों को जागरूक किया गया है। महिलाओं के लिए राजस्व विभाग में तहसील स्तर पर एवं पुलिस विभाग में थाना स्तर पर महिला हेल्प डेस्क की व्यवस्था की गई है जिसमें महिलाओं द्वारा ही महिलाओ एवं बच्चियों की समस्या सुनी जाती है। महिलाओं एवं बच्चियों के लिए विभिन्न टोल फ्री नंबर के माध्यम से सुरक्षा प्रदान की जा रही है। उन्होंने बताया कि महिला हेल्प लाइन नंबर भी जारी किए गए हैं। भारत सरकार के अंतर्गत वन स्टॉप सेंटर स्थापित किया गया है, जिसमें 181 हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से घरेलू हिंसा आदि की समस्याओं की शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। अब तक महिला शक्ति अभियान के दौरान 267 मामलों का निस्तारण कराया गया।

             
महिला थानाध्यक्ष तारावती देवी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा 1533 पुलिस स्टेशनों पर एक महिला पुलिस कक्षा बनाया गया है जिसमें महिला पुलिस नियुक्त की गई हैं जिसमें महिलाओं के आने वाली शिकायतों को दर्ज किया जा रहा है तथा उसका तुरंत निस्तारण कराया जा रहा है। महिलाओं के लिए महिला सुरक्षा समिति का गठन भी किया गया है जिसमें सामाजिक संस्थाओं की महिलाएं एवं महिला पुलिसकर्मी एक साथ रहकर कार्य करेंगी। उन्होंने कहा कि 1090 हेल्पलाइन महिलाओं के लिए बनाई गई है जो 24 घंटे कार्य करती है, जिस पर महिला किसी प्रकार की शिकायतों को दर्ज करा सकती हैं, पीड़िता का नाम गोपनीय रखा जाता है। उन्होंने कहा कि हमारे सभी 28 थानों पर महिला हेल्प डेस्क बनाया गया है जिस पर महिलाएं शिकायत दर्ज करा सकती हैं।

           
कार्यक्रम में मा0 राज्यमंत्री द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा बनायी गयी डाक्युमेंटरी ’’हमार बिटिया, हमार मान’’ की सीडी लांच की गयी। इस अवसर पर श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिको की विद्यालय में पढने वाली 17 बेटियों को साईकिल वितरित की गयी।  कार्यक्रम के अन्त में जिलाधिकारी द्वारा सभी को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस की बधाई दी तथा सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन संयुक्ता सिंह ने किया। इस अवसर पर सदस्य महिला आयोग शशि मौर्या, भाजपा जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह, जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, पुलिस अधीक्षक राज करन नैय्यर, मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला, उप जिलाधिकारी सदर नितीश कुमार सिंह, जिला विकास अधिकारी बीबी सिंह, उपायुक्त मनरेगा भूपेन्द्र सिंह, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी आर.डी. यादव, जिला सेवायोजन अधिकारी राजीव कुमार सिंह, सहायक श्रमायुक्त कुलदीप सिंह, पूर्व चेयरमैन सहकारी बैंक पाणिनी सिंह, जिला प्रोबेशन अधिकारी संतोष कुमार सोनी, जिला पूर्ति अधिकारी अजय प्रताप सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण कुमार तिवारी, जिला विद्यालय निरीक्षक राजकुमार पाण्डित, जिला गन्ना अधिकारी हुडा सिद्दकी, जिला पिछडा वर्ग कल्याण अधिकारी सुरेश कुमार मौर्या, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी कमलेश मौर्या, बाल संरक्षण अधिकारी चन्दन राय, महिला कल्याण अधिकारी नीता वर्मा, जिला समन्वयक प्रतिभा सिंह, बबीता सहित माध्यमिक तथा बेसिक शिक्षा विभाग की अध्यापिका, आगनबाड़ी, आशा, स्वयं सहायता समूह की महिलाएं उपस्थित रही।
Mar 08, 2021

Previous articleजौनपुर : महिला दिवस पर विभिन्न स्थानों पर गोष्ठी एंव सम्मान समारोह आयोजित
Next articleजौनपुर : जेसीआई चेतना ने धूमधाम से मनाया महिला सप्ताह
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏