जौनपुर में मिले डेंगू के 13 मरीज, एक हुई मौत- सीडीओ

जौनपुर में मिले डेंगू के 13 मरीज, एक हुई मौत- सीडीओ

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                  मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला ने बताया कि डेंगू के मामले प्रदेश भर में बढ़ रहे हैं। जनपद में डेंगू बुखार नियंत्रण में रहे, इसके लिए सफाई व्यवस्था सुदृढ़ की जा रही है।  उन्होंने बताया कि जनपद में डेंगू के 13 धनात्मक मरीज पुष्ट हुए हैं। जिन की लगातार मॉनिटरिंग करते हुए इलाज किया जा रहा है। जो भी गंभीर मरीज आ रहे हैं उन्हें बीएचयू रेफर किया जा रहा है।
मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि डेंगू के 26000 किट उपलब्ध है। सोमवार से जिला पुरुष अस्पताल में डेंगू की एलिसा टेस्ट की व्यवस्था की जा रही है। पूर्व में बनाए गए कोविड कंट्रोल रूम को डेंगू कंट्रोल रूम के रूप में प्रयोग किया जा रहा है, जहां पर साफ-सफाई की समीक्षा की जा रही है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक दिन जनपद के नोडल अधिकारी, उप जिलाधिकारी एवं खंड विकास अधिकारी भ्रमणशील रहकर सफाई व्यवस्था की समीक्षा कर रहे हैं।उक्त बातें मुख्य विकास अधिकारी ने शुक्रवार को विकाश भवन सभागार में पत्रकारों से बात करते हुए कही। साथ ही उन्होंने कहा कि सफाई व्यवस्था में कहीं कमी है, तो उसकी सूचना दें जिसका निराकरण 4 घंटे के भीतर कराया जाएगा।

उन्होंने बताया कि गुरमीत पुत्र दिलीप कुमार उम्र 8 वर्ष ग्राम गुंठवा, थाना खेतासराय जिला जौनपुर गंभीर अवस्था में 06 सितंबर को दोपहर ओपीडी में भर्ती हुए थे, बच्चा चार-पांच दिन से बीमार था, बच्चे को ज्यादा बुखार था तथा बच्चा ज्यादा सीरियस था एवं किसी प्राइवेट नर्सिंग होम में परिजन द्वारा इलाज कराया जा रहा था जिसे बीएचयू रेफर किया गया था जहाँ इलाज कराते हुए बच्चे की मृत्यु हो गई। जिस पर एसीएमओ डॉ राजीव को निर्देश दिया कि 3 सदस्य जांच कमेटी की गठन किया जाए और उस अस्पताल की जांच भी जांच की जाए।

उन्होंने बताया कि विकास खण्ड मड़ियाहूं के मुकुंदपुर में 03 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। एम ओ आई सी के जांच में पाया गया है कि किसी भी व्यक्ति की मृत्यु डेंगू से नहीं हुई और उस गांव में 62 लोगों की जांच की गई है, जिनमें किसी भी व्यक्ति में डेंगू के लक्षण नहीं पाए गए। गांव में साफ सफाई की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि 7 से 16 सितंबर 2021 तक जनपद में हाउस टू हाउस डेंगू का सर्वे किया जा रहा है। जिला अस्पताल में डेंगू वार्ड 24 घंटे संचालित है। जिला अस्पताल में 20 बेड एवं सीएचसी पर 05 बेड तैयार किये गए है। एसीएमओ को निर्देश दिया गया है कि प्राइवेट अस्पतालों के चिकित्सकों के साथ डेंगू के संबंध बैठक कर ली जाए। इस अवसर पर जिला पंचायत राज अधिकारी संतोष कुमार, जिला मलेरिया अधिकारी वीपी सिंह उपस्थित रहे।
Previous articleजौनपुर : जेसीआई जौनपुर चेतना ने शिक्षकों को किया सम्मानित
Next articleजौनपुर : वित्त अधिकारी और चीफ वार्डन ने परिसर एवं छात्रावासों का किया निरीक्षण
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏