जौनपुर : मोदीजी के मार्गदर्शन में बनेगी एनडीए के पूर्ण बहुमत की सरकार- अनुप्रिया पटेल

जौनपुर : मोदीजी के मार्गदर्शन में बनेगी एनडीए के पूर्ण बहुमत की सरकार- अनुप्रिया पटेल

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                  दूसरी आजादी के सपना को पूरा करने के लिए दलित, पिछड़े व आदिवासी समाज को एकजुट होने की जरूरत है। जौनपुर की धरती पर सामाजिक न्याय के संघर्ष को निरंतर धार मिलती रही है और आगे भी मिलती रहेगी।उक्त बातें अपना दल एस की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने गुरुवार को मड़ियाहूं विधानसभा क्षेत्र में भाऊपुर में आयोजित विजय संकल्प जनसभा को संबोधित करते हुए कहा।साथ ही उन्होंने कहा कि 2022 में अपना दल एस जौनपुर में भारी अंतर से अपनी उपस्थिति दर्ज कराएगा और पार्टी के संस्थापक डॉ सोनेलाल पटेल जी के सपनों को साकार करेगा। केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल ने कहा कि जौनपुर हमारे पूज्य पिताजी एवं अपना दल के संस्थापक डॉ सोनेलाल पटेल जी की कर्मस्थली रही है।

इस पवित्र धरती से प्रदेश एवं देश में सामाजिक न्याय की आवाज को धार मिलती रही है। यहां के लोगों के आशीर्वाद व स्नेह का ही प्रतिफल है कि मैं पिछले 7 सालों से उत्तर प्रदेश की विधानसभा से लेकर लोकसभा में बहुजनों के मुद्दों को मजबूती से निरंतर उठा रही हूं।श्रीमती पटेल ने कहा कि सामाजिक, आर्थिक व राजनैतिक तौर पर हमें मजबूत करने एवं सम्मानजनक जीवन के लिए संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ भीमराव आंबेडकर जी ने हमें आरक्षण तो दिया, लेकिन आज भी हमें अपने अधिकार की प्राप्ति के लिए निरंतर संघर्ष करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में दलित व पिछड़ों के सामने एक नई समस्या उत्पन्न हो गई है। आज हमें देखने को मिल रहा है कि दलित व पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों का कट ऑफ मार्क्स सामान्य से ज्यादा है। यदि सदियों से दबे-कुचले समाज के लोगों को विकास की धारा में आने के लिए सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों से ज्यादा अंक लाना पड़े तो फिर आरक्षण की प्रासंगिकता पर ही सवाल खड़े होते हैं।

यह एक गंभीर एवं ज्वलंत मुद्दा है। इसके लिए हम सभी बहुजनों को एकजुट होकर आवाज उठाने की जरूरत है। श्रीमती पटेल ने कहा कि चुनाव आयोग कभी भी चुनाव की घोषणा कर सकता है। चुनाव की तिथि घोषित होते ही पूरा सरकारी अमला चुनावी तैयारियों में जुट जाएगा। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में संख्या बल बहुत मायने रखता है।आज संसद में अपना दल एस के मात्र दो प्रतिनिधि और उत्तर प्रदेश विधानसभा में 9 प्रतिनिधि एवं विधान परिषद में एक प्रतिनिधि हैं। बावजूद इसके आपके हक-अधिकार के लिए हमारे प्रतिनिधि निरंतर आवाज उठा रहे हैं।अपना दल (एस) के संघर्ष का ही नतीजा है कि आज 69 हजार शिक्षक भर्ती मामले में पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के साथ न्याय की प्रक्रिया शुरू हुई है। श्रीमती पटेल ने कहा कि जातीय जनगणना वर्तमान समय की जरूरत है।

उन्होंने अल्पसंख्यक मंत्रालय की तर्ज पर ओबीसी कल्याण मंत्रालय के गठन की मांग की। देश में सर्वाधिक मुकदमे दलित, पिछड़े व आदिवासी समाज के हैं, बावजूद इसके न्यायपालिका में इस वर्ग का प्रतिनिधित्व नगण्य है। श्रीमती पटेल ने अखिल भारतीय न्यायिक सेवा के गठन की मांग की। केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल ने कहा कि अब पांच साल की पढ़ाई का एक्जाम शुरू होने वाला है। अब आपको एक्जाम पास करने के लिए कई गुना मेहनत करने की जरूरत है। चुनाव में बूथ प्रबंधन सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। हर बूथ हमारे लिए महत्वपूर्ण है। हर बूथ पर हमें अपनी टीम खड़ी करनी है। इसे मिशन मोड में लेकर चलिए। हर गांव में जाइए, लोगों से मिलिए, गांव में चौपाल लगाइए, पार्टी की नीतियों से लोगों को अवगत कराइए।श्रीमती पटेल ने जनता से पूछा कि पूर्ववर्ती सरकारों ने आपको क्या दिया और आज केंद्र की एनडीए व प्रदेश की भाजपा व अपना दल एस की सरकार आप सभी को क्या दे रही है।

पिछले 5 साल में आपको क्या मिला और क्या मिलने वाला है। इस पर फोकस करने की जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी युवा सोच और दूरदर्शी हैं। प्रदेश में हवाई अड्‌डा का जाल बुना जा रहा है। देश में सर्वाधिक एयरपोर्ट उत्तर प्रदेश में विकसित हो रहे हैं। प्रधानमंत्री जी ने पिछले महीने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्धाटन किया। अब लखनऊ व दिल्ली दूर नहीं है। आप यहां से साढ़े तीन घंटे में लखनऊ पहुंच जाएंगे। पूर्वांचल एक्सप्रेस के किनारे औद्योगिक गलियारे का भी विकास हो रहा है। उद्योग स्थापित होंगे। यहां के युवाओं को रोजगार मिलेगा। आप डबल इंजन की सरकार को मजबूत करते रहिए और देखते रहिए, वह दिन दूर नहीं जब यहां के युवाओं को रोजगार के लिए अन्य राज्यों एवं विदेशों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। पिछले दिनों प्रधानमंत्री जी ने प्रदेशवासियों को 9 मेडिकल कॉलेजों की बड़ी सौगात दी। आने वाले समय में प्रदेश में 24 मेडिकल कॉलेज होंगे, जो कि देश में सर्वाधिक होंगे। यहां के बच्चों को मेडिकल की पढ़ाई के लिए अन्य राज्यों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

7 दिसंबर को प्रधानमंत्री जी ने गोरखपुर में एम्स और खाद फैक्ट्री का उद्धाटन किया। पूर्वांचल की सेहत में सुधार के लिए ये दोनों परियोजनाएं मील का पत्थर साबित होंगी। सभा की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष मछलीशहर लालबहादुर पटेल ने तथा संचालन राकेश  पटेल ने किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय महासचिव राघवेन्द्र प्रताप सिंह, मड़ियाहूं की विधायक डॉ. लीना तिवारी, प्रतापगढ़ सदर विधायक राजकुमार पाल, दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री श्रीमती रेखा पटेल, राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेश पटेल, राष्ट्रीय सचिव पप्पू माली, राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य विनोद गंगवार, प्रदेश सचिव लालप्रकाश पाल, गोकरन पटेल, जिलाध्यक्ष जौनपुर शिवनायक पटेल, रविंद्र दुबे, जेपी दुबे, महिला मंच की जिलाध्यक्ष संयोगिता चौहान आदि उपस्थित रहे।

Earn Money Online

Previous articleचौधरी चरण सिंह राज्यस्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता में टाई ब्रेकर ने दिलाई सिराज-ए-हिंद को जीत
Next articleजौनपुर : डीएम और एसपी ने किया निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏