जौनपुर : युवाओं को अपनी संस्कृति की पहचान होना जरूरी- अशोक सिंह

जौनपुर : युवाओं को अपनी संस्कृति की पहचान होना जरूरी- अशोक सिंह

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                  हर बार की तरह इस बार भी कर्मभूमि मुंबई से लौट कर समाजसेवी, उद्योगपति और जौनपुर लोकसभा के पूर्व प्रत्याशी अशोक सिंह ने अपनी जन्मभूमि एंव गृह जनपद जौनपुर के मड़ियाहूं तहसील के निकुम्हन पुर गांव में नवरात्रि के पावन पर्व पर माता के भव्य जागरण कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्य्रकम में जहां सुप्रसिद्ध लोकगीत गायक पंकज सिन्हा और शैली गगन ने देवी गीत प्रस्तुत किया, वहीं वाराणसी और लखनऊ से आये कलाकरों ने भगवान के अलग-अलग रूप की जीवंत झांकियां प्रस्तुत की।

इस अवसर पर अशोक सिंह ने कहा कि अपने जिले अपने गांव के लोगों के विकास के लिए हर संभव प्रयास करना मेरा संकल्प है। गांव के युवाओं को अपने सांस्कृतिक और धार्मिक धरोहर का महत्व बताने के लिए हम इस तरह के कार्यक्रमों को बढ़ावा देते हैं ताकि राष्ट्रीय स्तर की सांस्कृतिक चेतना से हमारा युवावर्ग रूबरू हो सके। नवदुर्गा पूजानोत्सव समीति के वरिष्ठ पदाधिकारी डॉ शेर सिंह, पप्पू सिंह (सुल्ताना) अध्यक्ष, भुवर सिंह बीडीसी (कोषाध्यक्ष), समीर सिंह, बियोगी सिंह, सौरभ सिंह ने अपने विचार व्यक्त करते हुए आभार प्रगट किया। इस अवसर पर ग्राम प्रधान बबलू सिंह, आदमपुर के प्रधान बच्चन यादव, परियत के प्रधान रईस भाई, समाजसेवी बृजेश सिंह सनी, चितरंजन कॉलेज के प्रबंधक दिलीप कुमार जायसवाल, आलोक श्रीवास्तव और प्रदीप यादव आदि उपस्थित थे।

कार्यक्रम में उपस्थित विशेष अतिथियों ने बताया कि गांव में आयोजित होने वाले सभी जनहित के कार्यक्रम में अशोक सिंह बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। वह नवरात्र में दुर्गा माँ की स्थापना कराने से लेकर जागरण कार्यक्रम और भंडारे में भी शामिल होते हैं। प्रत्येक वर्ष वो नवरात्र में अपने गांव में आते हैं और ऐसे ही कार्यक्रम का आयोजन कराते हैं। जिससे उनके गांव के लोगों को भी बड़े बड़े शहर के कलाकारों को देखने का मौका मिले और गांव के बच्चे भी अपनी प्रतिभा को सबके सामने रख सकें। पूरी रात चले इस जागरण कार्यक्रम में ना सिर्फ एक गांव के बल्कि आस- पास के कई गांव के लोग पहुँच कर माता के जागरण में शामिल हुए।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : जेईई एडवांस में शाश्वत को मिली 3014वीं रैंक
Next articleभाजपा शिक्षक प्रकोष्ठ की बैठक में संगठन के विस्तार पर जोर, बनाई रणनीति
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏