जौनपुर : रचनाकार अपने अंदर दृष्टाभाव‌ भी रखे- राघवेश अस्थाना

जौनपुर : रचनाकार अपने अंदर दृष्टाभाव‌ भी रखे- राघवेश अस्थाना

# उद्देश्य की जगह लक्ष्य बनाए विद्यार्थी- अविनाश राज

# मीडिया : वीडियो संपादन कला एवं रोजगार की संभावनाएं विषय पर हुई कार्यशाला

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर के आर्यभट्ट सभागार में सोमवार को मीडिया : वीडियो संपादन कला एवं रोजगार की संभावनाएं विषय पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। यह कार्यशाला विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य की प्रेरणा से किया जा रहा है। यह कार्यक्रम जनसंचार विभाग और कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग विभाग के सहयोग से किया गया।इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि सिनेमा की दुनिया में एक कुशल रणनीतिकार एवं वर्तमान में मितवा टीवी के प्रबंध निदेशक राघवेश अस्थाना ने कहा कि एक रचनाकार को अपने अंदर दृष्टाभाव‌ भी रखना चाहिए। संपादन व कला है जो दर्शक और पाठक को बांधे रखती है खासतौर से भावनाओं की एडिटिंग के समय इस मामले में काफी सतर्कता बरती जाती है अगर कहीं संपादन गलत हुआ तो अर्थ का अनर्थ हो जाता है। उन्होंने कहा कि अच्छा संपादक वो होता है जो कंटेंट में जान भर दे, इसलिए अक्सर संपादक का दर्जा व्यवहारिक तौर पर निर्देशक से बड़ा होता है, क्योंकि वह निर्देशक के कंटेंट को ही सुधार कर प्रस्तुत करता है। उन्होंने छात्रों के सवालों का जवाब देकर उन्हें संतुष्ट किया।

इस अवसर पर मितवा टीवी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अविनाश राज ने कहा कि मीडिया में रोजगार के अवसर बहुत हैं। सफल वही है जो एंबीशन (उद्देश्य) छोड़कर गोल (लक्ष्य) पर ध्यान रखता है। इसके लिए अपनी रूचि के अनुसार विषय का सेलेक्शन करना होगा। उन्होंने मार्केटिंग में सफलता के 3-सी सूत्र बताए। कहा कि पहले कस्टमर को कन्विंस करिए, फिर कन्फ्यूज और बाद में ना मानें तो करप्ट कर दीजिए। कार्यशाला में ज्ञान के साथ-साथ विद्यार्थियों को नौकरी के भी आफर दिए गए। इससे विद्यार्थियों में काफी खुशी का माहौल था।अध्यक्षीय उद्बोधन में प्रबंध अध्ययन संकाय के पूर्व संकाय अध्यक्ष प्रो. मानस पांडेय ने कहा किसी भी कला को सीखने के लिए उम्र को बाधक नहीं बनाना चाहिए हमें अगर आगे बढ़ना है तो हर नए काम में रूचि पैदा करनी होगी।

इस अवसर पर स्वागत भाषण कार्यक्रम के आयोजन सचिव डॉक्टर संजीव गंगवार ने और अतिथियों का परिचय डॉ. अवध बिहारी सिंह और मनोज कुमार यादव ने प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. रसिकेश ने और धन्यवाद ज्ञापन कार्यशाला के संयोजक डॉ. सुनील कुमार ने किया। कार्यक्रम में मितवा टीवी की प्रोडक्शन टीम के रोशन शशांक और आदर्श सिंह भी थे। इस अवसर पर प्रोफेसर देवराज सिंह, प्रोफेसर अशोक कुमार श्रीवास्तव, प्रोफेसर अजय द्विवेदी, डॉ सुशील कुमार, डॉ धीरज चौधरी, डॉ गिरिधर मिश्र, डॉ पुनीत धवन, डॉ अशोक कुमार यादव, डॉ दिव्यंदू, करुणा निराला, आनंद सिंह आदि उपस्थित रहे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : रोवर रेंजर्स एक अनुशासित संस्था- कुलसचिव
Next articleजौनपुर : टीडी कालेज के अनुशासन मंडल एंव पुलिस के संयुक्त चेकिंग अभियान में अराजक तत्व गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏