जौनपुर : बड़बोले बोल ! राजभर बिरादरी का गद्दार है असलम राजभर- अनिल राजभर

जौनपुर : बड़बोले बोल ! राजभर बिरादरी का गद्दार है असलम राजभर- अनिल राजभर

# पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में कैबिनेट मंत्री ने शाहगंज के विकास का दिलाया भरोसा

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
               भारतीय जनता पार्टी द्वारा रविवार को मजडीहां गांव स्थित सनराईज पब्लिक स्कूल के बगल पिछड़ा वर्ग सम्मेलन का आयोजन किया गया। कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर व राज्यमंत्री गिरीश चंद यादव ने सपा, बसपा और कांग्रेस को निशाने पर रखा।बतौर मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि पिछड़ों ने मोदी पर भरोसा किया और आज वो संसार के सबसे लोकप्रिय नेता बने। उन्होंने पिछड़ों का दिन बदलने का काम किया। पिछड़ी जातियों के लोग साठ वर्षों तक देश में कांग्रेस और यूपी में सपा बसपा की सरकार बनाते रहे ये दल पिछड़ों के बूते अपना दिन बदलते रहे लेकिन किसी ने इनके भले की नही सोचा।

कैबिनेट मंत्री ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी व समाजवादी पार्टी के गठबंधन पर प्रहार करते हुए ओमप्रकाश राजभर को नया नाम असलम राजभर कहते हुए कहा कि महाराजा सुहेलदेव के दुश्मन की मजार पर चादर चढ़ाने वाला असलम राजभर बिरादरी का ग़द्दार है। 18 साल तक बिरादरी के लोगों हर तरह से उसका सहयोग किया और वो गाजी की मजार को रौशन करने वालों के साथ खड़ा हो गया।
आगे कहा कि कांग्रेस, सपा, बसपा परिवार को बढ़ावा देने वाले दल हैं। जबकि भाजपा ने केशव मौर्य को उप मुख्यमंत्री, फागू चौहान को राज्यपाल, संगीता बलवंत, धर्मवीर प्रजापति को मंत्री बनाकर पिछड़ों का सम्मान बढ़ाने का काम किया है। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि अगली सरकार में शाहगंज से भाजपा का विधायक भेजें दो साल के भीतर विकास कर क्षेत्र की दशा और दिशा बदलेगी।

सम्मेलन को संबोधित करते हुए राज्यमंत्री गिरीश चंद यादव ने कहा कि 2014 के चुनाव में बसपा का सूपड़ा साफ हुआ तो 2017 में बुआ बबुआ एक होकर मैदान में उतरे और दोनों की हालत खराब रही। कहा आगामी विधानसभा चुनाव में पिछड़ों का हित सुरक्षित रखने के लिए योगी सरकार का बनना बहुत जरूरी है। सम्मेलन का संचालन सर्वेश चौरसिया ने किया।इस दौरान पूर्व ज्वाइन्ट कमिश्नर वेदानन्द ओझा ने मुख्य अतिथि को अंगवस्त्रम व स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अजित प्रजापति, विजय लक्ष्मी गुप्ता, कृष्ण कुमार जायसवाल, अश्वनी पटेल, गीता बिंद, शशि मौर्य, विजय सिंह विद्यार्थी, राकेश वर्मा, पवन पाल, बेचन सिंह आदि उपस्थित रहे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : प्रतियोगिता जीत कर रानीमऊ की टीम बनी विजेता
Next articleजौनपुर : राजनीति में कायस्थों की भागीदारी नहीं तो वोट नहीं- मुकेश श्रीवास्तव
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏