जौनपुर : लंबित पड़े भुगतान के लिए जिलाधिकारी से लगाई गुहार

जौनपुर : लंबित पड़े भुगतान के लिए जिलाधिकारी से लगाई गुहार

# शहीद उद्यान पार्क सेनापुर में कार्यरत माली की माली हालत दयनीय

केराकत।
विनोद कुमार
तहलका 24×7
               क्षेत्र के सेनापुर गांव स्थित बने शहीद उद्यान पार्क में माली के पद पर कार्यरत शिवकुमार विश्वकर्मा का पिछले सात महीनों से मानदेय भुगतान न होने से उनकी माली हालत दयनीय हो गयी है। लम्बित पड़े मानदेय भुगतान के लिए जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा से मिलकर शिकायत पत्र सौप कर सम्बन्धित अधिकारियो को आदेशित कर भुगतान करवाने की मांग की। जबकि दो महीने पहले लम्बित पड़े भुगतान की खबर मीडिया की सुर्खियां बनी रही बाबजूद इसके भी अधिकारियो व कर्मचारियों की नींद नही खुली जो बेहद शर्मनाक है।बता दें कि पूर्व जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह के द्वारा जिले भर के 45 गॉवो में अटल मनरेगा पार्क बनवाये गए

जिसकी देख-रेख के लिए बाकायदा प्रशिक्षण दिलाकर मनरेगा के तहद माली की नियुक्ति तीन साल के लिए की गई। फलस्वरूप आदेशित किया गया कि तीन साल का प्रांकलन मनरेगा के तहत तकनीकी सहायक (जेई) द्वारा तैयार कराकर माली के भुगतान का प्रति महीना रोजगार सेवक व ग्राम विकास अधिकारी के द्वारा मास्टर रोल निकलवाना व हाजिरी लगा कर फिड करवाना जिम्मेदारी होगी। बावजूद इसके दो महीने का भुगतान तो किया गया पर पिछले सात महीनों का भुगतान लंबित है अब सात महीनों का ना तो मास्टर रोल का पता है और ना तो प्रांकनल का पता है अब सात महीनों से रोजगार सेवक के द्वारा मास्टर रोल फिड करवाया गया है कि नहीं अगर नही तो क्यो? आखिर ये सवाल पूछे तो किससे? इतनी बड़ी लापरवाही का जिम्मेदार आखिर किसे कहा जाय। जबकि गॉव से लेकर ब्लाक तक लम्बित पड़े भुगतान को लेकर आये दिन चर्चा का विषय बना रहता है। माली शिवकुमार का एक मात्र सहारा यही है जिसके सहारे अपने परिवार का भरण पोषण करते थे। बहरहाल लम्बित पड़े मानदेय भुगतान कैसे और कब होगा ये तो जिम्मेदार ही तय करेंगे।
Previous articleजौनपुर : मूल्यांकन प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी एवं सही- शिक्षक संघ
Next articleजौनपुर : एक वारंटी को शाहगंज पुलिस ने किया गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏