जौनपुर : लक्ष्मण ने काटी सूर्पनखा की नाक, सीता को हर ले गया रावण

जौनपुर : लक्ष्मण ने काटी सूर्पनखा की नाक, सीता को हर ले गया रावण

शाहगंज।
अनूप जायसवाल
तहलका 24×7
                बीबीगंज चौकी क्षेत्र के गोड़िला फाटक बाजार में श्री बजरंग नवयुवक रामलीला समिति के पांचवे दिन समारोह के मुख्य अतिथि शाहगंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार गुप्ता रहे।क्षेत्र के गोड़िला फाटक बाजार में चल रही रामलीला में शनिवार की रात को सुपर्णखा की नाक कटने, खर-दूषण वध व सीता हरण लीला का मंचन किया गया। जिसे देख दर्शक भावुक हो गए।रामलीला का शुभारंभ माँ लक्ष्मी की आरती के बाद किया गया जिसमें दिखाया गया कि राम लक्ष्मण सीता सहित वन चले जाते हैं। जब भरत को यह पता चलता है तो वह माता केकैयी के पास जाते हैं और उन्हें बुरा भला बोलते हैं। कहते हैं मुझे राज्य नहीं चाहिए मुझे भाई राम चाहिए। तब माता कैकेयी बताती हैं कि मन्थरा ने उन्हें भड़का दिया था।

भरत भगवान राम को ढूंढने के लिए वन की ओर चले जाते हैं, जहाँ भगवान मिलते हैं और भरत कहते हैं कि भैया आप अयोध्या चलकर राजकाज संभाले। राम के समझाने पर भरत भगवान राम की खड़ाऊ सिर लेकर अयोध्या वापस आते हैं और राजगद्दी पर खडाऊ रखकर राजकाज में लग जाते हैं।उधर वन में सूपर्णखा राम-लक्ष्मण और सीता को देख लेती है और राम को मोहित करते हुए कहती है कि आप मुझसे विवाह कर ले। लेकिन राम उसके छल-कपट को पहचान कर अनुज लक्ष्मण के पास भेज देते हैं। लक्ष्मण के विवाह से इंकार करने पर वह क्रोधित होकर अपने असली राक्षसी रूप में प्रकट हो जाती है। राम का संकेत पाते ही लक्ष्मण उसके नाक कान काट देते हैं। नाक कटने के बाद वह खर-दूषण के पास जाती है। और सारी आपबीती बात बताती है उसके बाद खर-दूषण राम-लक्ष्मण से युद्ध करने आते हैं परन्तु दोनो ही मारे जाते हैं।

इसके बाद सुपर्णखा रोते हुए रावण के पास पहुंचती है और पूरा बात रावण को बताती है। खर-दूषण के वध के बारे में भी बताती है। तब रावण सुपर्णखा के अपमान का बदला सीता हरण करके लेने को कहता है। वह मारीच को स्वर्ण मृग बनाकर भेजता है। जब राम-लक्ष्मण उस मृग को मारने के लिए जाते हैं तब रावण साधू वेश धारण कर कपट के द्वारा सीता का हरण करके लंका ले आता है।मंचन में राम का पाठ अनुप श्रीवास्तव, लक्ष्मण का पाठ पप्पू शर्मा, सीता का पाठ शशिकांत विश्वकर्मा, रावण का पाठ विवेक यादव, खर-दूषण का पाठ अनूप जायसवाल व आशीष मौर्या ने कियाइस अवसर पर रामलीला कमेटी के अध्यक्ष रोहित गुप्ता, रामशंकर गुप्ता, निर्देशक राजेश गुप्ता, संतोष गुप्ता, कालीचरण गुप्ता, दुर्गाप्रसाद गुप्ता, सुरेश गुप्ता, पंकज गुप्ता, सोनू यादव, सतेंद्र चौहान, आदि मौजूद रहे।
Previous articleजौनपुर : राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी ने सेवानिवृत्त शिक्षकों को किया सम्मानित
Next articleजौनपुर : क्षत्रिय महासभा ने किया प्रतिभा का सम्मान
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏