जौनपुर : लीलावती महिला चिकित्सालय के जीर्णोद्धार का डीएम ने किया लोकार्पण

जौनपुर : लीलावती महिला चिकित्सालय के जीर्णोद्धार का डीएम ने किया लोकार्पण

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                  जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने गुरुवार को राजकीय लीलावती महिला चिकित्सालय मतापुर का कायाकल्प होने के बाद लोकार्पण किया। इसके पहले उन्होंने शिव प्रतिमा तथा लीलावती की प्रतिमा के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर अस्पताल का शुभारंभ किया। इसके साथ ही अस्पताल में बढ़ी सुविधाओं के बारे में जानकारी ली।उद्घाटन समारोह के दौरान जिलाधिकारी ने संबोधित करते हुए कहा कि जनवरी 2021 में उन्होंने जौनपुर में कार्य भार ग्रहण किया।कोविड-19 के दौरान ज्ञान प्रकाश सिंह ने मेडिकल उपकरण, जांच संबंधी उपकरण, आक्सीजन प्लांट आदि मुहैया कराया।

क्षेत्र के लोगों के सहयोग का नतीजा है कि आज जिले में 14 आक्सीजन प्लांट, सभी जरूरी उपकरण और भरपूर मात्रा में जरूरी दवाएं हैं। ज्ञान प्रकाश ने बिना किसी स्वार्थ के लीलावती महिला चिकित्सालय के कायाकल्प की जिम्मेदारी ली। जनवरी में जो बिल्डिंग जर्जर थी, आज सभी सुविधाओं से सुसज्जित और आकर्षक है।जिलाधिकारी ने बढ़ रहे कोविड के मामलों को लेकर भी लोगों को आगाह किया। उन्होने कहा कि जौनपुर में भी 10 मरीज हैं लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है। 18 वर्ष से ऊपर की 39 लाख की आबादी में से 31.90 लाख लोगों को टीका लगवा दिया गया है। शेष लोगों को भी 10 से 12 दिन में टीका लगा दिया जाएगा। 19 लाख लोगों को दूसरी डोज भी लग चुकी है। फिर भी एहतियात बरतना बहुत जरूरी है।

उन्होंने आंखों के इलाज में काम आने वाले उपकरण मुहैया कराने तथा ब्लड बैंक बनवाने में भी रेडक्रॉस सोसायटी का सहयोग करने के लिए भी ज्ञान प्रकाश को धन्यवाद दिया। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ लक्ष्मी सिंह तथा अस्पताल के प्रभारी डॉ एससी वर्मा ने बताया कि अस्पताल की बिल्डिंग, दरवाजे, खिड़कियां सभी का कायाकल्प हुआ है। आपरेशन मशीन, माइक्रोस्कोप, आपरेशन टेबल, हाइड्रोलिक चेयर, एयरकंडीशनर, आठ बेड, आठ गद्दे, ट्यूबलाइट सहित सभी बिजली का सामान नया है। अब सुपर हाइजेनिक वातावरण में आखों के इलाज की बेहतर सुविधा मिल सकेगी। अस्पताल का कायाकल्प समाजसेवी ज्ञान प्रकाश सिंह ने कराया है। 

ज्ञान प्रकाश सिंह ने जिलाधिकारी को धन्यवाद देते हुए कहा कि अस्पताल को कायाकल्प में योगदान देने वाले श्रमिकों के साथ ही अस्पताल के प्रभारी डॉ एससी वर्मा ने पूरा साथ दिया है। उन्होंने बताया कि जब भी कोई बीमार होता है उसे एमआरआई और सिटी स्कैन के लिए वाराणसी जाना होता है, शीघ्र ही इसकी व्यवस्था यहां पर करा दी जाएगी। उन्होने बताया कि चार महीने पहले मड़ियाहूं के बच्चों के साथ कबड्डी एसोसिएशन की पूरी टीम आई थी, उन्होंने प्रैक्टिस करने के लिए मैट की मांग की थी। कबड्डी शुरू होने से एक दिन पहले उन्हें मैट उपलब्ध करा दिया गया। सीएमओ डॉ लक्ष्मी सिंह ने लोगों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने, मास्क जरूर पहनने, बाहर जाने से पहले जांच करवा लेने तथा कोविड की जांच कराने का निवेदन किया।

संचालन कर रहे अनिल अस्थाना ने कोविड-19 के दौरान जनपद को ज्ञान प्रकाश सिंह के माध्यम से मिली सेवाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होने बताया कि उन्होंने डिलक्स शौचालय का कायाकल्प कराया और कोविड-19 के दौरान 78 दिन तक मजबूर लोगों के लिए भोजन के पैकेट की व्यवस्था की।इस मौके मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ अनिल कुमार शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला, माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश सिंह, माउंट लिटेरा जी स्कूल के निदेशक अरविंद सिंह, डीआर सिंह, अरुण सिंह, जितेंद्र यादव, प्राचार्य डॉ रूबी सिंह, शशिमोहन क्षेम, तेरस यादव, प्रधानाचार्य सुभाष सिंह, मिथिलेश सिंह, वशिष्ठ नारायण सिंह सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। 

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : संगठन में ईमानदारी आवश्यक- सत्य प्रकाश पांडेय
Next articleजौनपुर : भाजपा आईटी सेल एवं सोशल मीडिया की बैठक सम्पन्न
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏