जौनपुर : संदिग्ध परिस्थिति में हिस्ट्रीशीटर का मिला शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

जौनपुर : संदिग्ध परिस्थिति में हिस्ट्रीशीटर का मिला शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
               क्षेत्र अंतर्गत भटपुरा गांव में शनिवार की रात एक हिस्ट्रीशीटर युवक का संदिग्ध परिस्थिति में शव उसके कमरे में पाया गया। स्वजनों ने हत्या के बाद शव लाकर घर के कमरे में आत्महत्या का रूप दिए जाने का आरोप लगाया है। हिस्ट्रीशीटर युवक का शव साड़ी के फंदे के सहारे दीवार में लगी खूंटी से लटकता पाया गया। जबकि खूंटी के नीचे खाट रखी हुई थी। खूंटी और खाट के बीच पांच फुट से भी कम अंतराल था। यदि युवक फांसी पर झूलता तो उसका पैर खाट पर आकर टिक जाता। स्थिति देखकर स्पष्ट प्रतीत होता है कि घटना को आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया गया है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण हेतु भेज दिया है।

गांव निवासी 42 वर्षीय यदुनाथ उर्फ डेबई गौतम स्थानीय थाने का हिस्ट्रीशीटर रहा है। उसके खिलाफ कई संज्ञेय अपराधों में मुक़दमा दर्ज है। स्वजनों का आरोप है कि वह शनिवार की शाम अपने हाथ से घर में मछली बनाकर खुद व परिवार के लोगों को खिलाने के बाद कमरे में सोने चला गया। उसके साथ उसका 12 वर्षीय पुत्र डब्लू भी बगल खाट पर सो गया। उसकी पत्नी और दो पुत्रियां घर के बाहर द्वार पर सोयी हुई थी। आधी रात के बाद लघु शंका के लिए डब्लू उठा तो पिता का शव साड़ी के फंदे से धड़ हवा में और घुटने तक पैर खाट पर पड़ा दिखा। पिता को ऐसे हालात में देखते ही वह शोर मचाने लगा। मौके पर आस पास के लोग जमा हो गये। फंदा खोल शव नीचे उतारा गया। घटनास्थल पर पहुँची पुलिस शव को कब्जे में ले लिया।

मृतक की पत्नी सुनीता देवी ने आरोप लगाया है कि उसके पति को रात में अज्ञात ब्यक्तियों के द्वारा धोखे से कहीं दूर बुलवाकर उसकी हत्या कर दी गयी। उसे आत्महत्या का रूप देने के लिए शव उसी कमरे में फिर से लाकर आत्महत्या का रूप दे दिया गया है। घटना से आहत मृतक की पत्नी पुत्र व पुत्रियाँ करिश्मा और नंदिनी के करुण क्रंदन से शोक की लहर व्याप्त हो गई। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक इंस्पेक्टर बिजेंद्र सिंह का कहना है कि घटना संदिग्ध है। छानबीन की जा रही है। मृतक के खिलाफ थाने में जान से मारने, लूट और 25 आर्म्स एक्ट के मुकदमे दर्ज है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पायेगी।
Previous articleजौनपुर : हनुमान भक्तों ने किया सुन्दर काण्ड पाठ का साप्ताहिक आयोजन
Next articleजौनपुर : मन की बात सुनकर मिलती है प्रेरणा- मनीष कुमार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏