जौनपुर : सत्ता पक्ष का प्रतिनिधि न होने से विकास से कोसो दूर है शाहगंज- रामजी यादव

जौनपुर : सत्ता पक्ष का प्रतिनिधि न होने से विकास से कोसो दूर है शाहगंज- रामजी यादव

शाहगंज।
रविशंकर वर्मा
तहलका 24×7
                  शाहगंज नगर चार जिलों का संगम होते हुए भी विकास से कोसों दूर हैं, यहाँ शिक्षा जैसी बुनियादी जरूरतों को पूरा करने के लिए छात्र-छात्राओं को अन्यत्र जाना पड़ता है। कहने को तो शाहगंज क्षेत्र आजमगढ़, जौनपुर, अम्बेडकर नगर और सुल्तानपुर जैसे बड़े जिलों का संगम स्थल है मगर जिस गति से इस संगम नगरी का विकास रूका हुआ है उसके लिए सत्ता पक्ष नहीं बल्कि क्षेत्र के प्रतिनिधि जिम्मेदार हैं यहाँ की सड़कों को देखकर ऐसा लगता है जैसे यहाँ पर कभी सड़क थी नहीं, जगह-जगह इतने बड़े गढ्ढे बन गयें है कि बरसात में उसे पार करने के नाव की जरूरत महसूस होती है उक्त बातें भाजपा नेता 365 शाहगंज विधानसभा रामजी यादव ने एक छोटी सी वार्ता में कही।
उन्होंने आगे कहा कि किसी भी क्षेत्र का विकास इस बात पर निर्भर करता है कि उस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कौन कर रहा है? क्या वह प्रतिनिधि जिसे जनता ने चुन कर विधानसभा तक भेजा वह सत्ता पक्ष का है या अन्य किसी पार्टी का? पिछले एक दशक से शाहगंज विधानसभा से गैर भाजपा प्रतिनिधि को जनता बागडोर सौंपी थी जिसका खामियाजा जनता भुगत रही है और जनपद की सबसे सशक्त तहसील शाहगंज विकास से कोंसो दूर हो गया है। भाजपा नेता रामजी ने कहा कि आगामी 2022 के विधानसभा के चुनाव में मैं प्रयासरत हूं अगर मुझे मौका मिला तो मैं शाहगंज विधानसभा की मूलभूत आवश्यकताओं को वरीयता देकर जनता को राहत पहुंचाने का काम करेंगे। शाहगंज की जनता विकास चाहती है तो ऐसे व्यक्ति को विधानसभा भेजना होगा जो उनकी बुनियादी जरूरतों को सदन के पटल पर रख सकें उनकी हर समस्या को सरकार तक पहुंचा कर जल्द से जल्द निवारण करा सके।
Previous articleजौनपुर : सराहनीय ! पुलिस ने व्यापारी के खोए रूपए दिलाए
Next articleजौनपुर : भाजपा की मीडिया सेल की कार्यशाला सम्पन्न
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏