जौनपुर : सफाईकर्मी ने बेटे संग मिलकर किया बड़े भाई की पीटकर हत्या

जौनपुर : सफाईकर्मी ने बेटे संग मिलकर किया बड़े भाई की पीटकर हत्या

# पुलिस ने पिता-पुत्र के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर किया गिरफ्तार

खेतासराय।
अज़ीम सिद्दीकी
तहलका 24×7
                  नगर के पोस्ट आफिस मोहल्ले मेंं भूमि बंटवारे को लेकर सोमवार की रात्रि छोटे भाई ने अपने बेटे के साथ मिलकर बड़े भाई की पीटकर हत्या कर दी। मृतक के बेटे आशीष कुमार की तहरीर पर पुलिस ने आरोपित पिता पुत्र के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर चालान न्यायालय भेज दिया।

जानकारी के अनुसार पोस्ट आफिस मोहल्ला निवासी 52 वर्षीय अनिरुद्ध प्रसाद तीन भाइयों में सबसे बड़ा था। लगभग दो दशक पहले अनिरुद्ध रोडवेज में बस चालक था। किसी कारणवश उसे नौकरी से निकाल दिया गया था। तभी से घर पर ही रहा था। चार बेटों में दो बेटे पुणे औ सूरत में रहकर काम करते हैं। दो बेटे आशीष कुमार और मनीष कुमार घर पर माता पिता के साथ रहते हैं। चार बेटों के बीच एक बेटी की शादी कर चुका था।

इस बीच भाईयों में बंटवारा हो गया और तीनों भाई अलग-अलग अपने परिवार के साथ रहने लगे। दूसरे नंबर का भाई चंद्रिका दिल्ली रहता है। घटना के एक दिन पहले दिल्ली से आया है। सबसे छोटा पूरनमल सोंधी ब्लाक के महरौड़ा गांव में सफाईकर्मी है। बताया जाता है कि एक वर्ष पूर्व अनिरुद्ध को नगर पंचायत कार्यालय से आवास मिला था। जिसकी पहली किश्त 50 हजार रुपए उसके खाते में आ गई थी।
लेकिन उसने आवास निर्माण शुरू नहीं कराया। इस दौरान डेढ़ लाख की दूसरी किश्त भी उसके खाते में आ गई। फिर भी आवास निर्माण शुरू नहीं कराया। विभागीय जांच के दौरान पैसा मिलने के बावजूद निर्माण शुरू न कराने पर अनिरुद्ध से आवास निर्माण जल्द कराने को कहा गया। दबाव पड़ने पर उसने सरिया, गिटट्टी, बालू गिरवाना शुरू किया। लेकिन भाइयों के बीच भूमि का बंटवारा न हो पाने से आवास निर्माण अधर में लटक गया।

सोमवार की रात नौ बजे भूमि बंटवारे को लेकर अनिरुद्ध और छोटे भाई सफाईकर्मी पूरनमल के बीच विवाद होने लगा। इस पर सफाईकर्मी पूरनमल ने अपने बेटे रोहित के साथ मिलकर बड़े भाई अनिरुद्ध को लाठी डंडे से मारने पीटकर लहूलुहान कर दिए। चीख पुकार सुनकर अनिरुद्ध की पत्नी निर्मला और दोनों बेटे आशीष, मनीष बीच-बचाव करने पहुंचे तो उन्हें भी मारकर घायल कर दिया। पिता की हालत गंभीर देख दोनों बेटे पुलिस को सूचना देते हुए रात्रि दस बजे पीएचसी सोंधी पहुंचे। प्राथमिक उपचार के बाद अनिरुद्ध प्रसाद को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां देर रात्रि उपचार के दौरान अनिरुद्ध की मौत हो गई।
Previous articleजौनपुर : शॉर्ट सर्किट से दो ट्रांसफार्मर जला, विद्युत आपूर्ति बाधित
Next articleजौनपुर : केन्द्र सरकार द्वारा उपेक्षापूर्ण एवं अपमानजनक रवैए से कायस्थ महासभा में रोष
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏