जौनपुर : समाजवादी लोहिया वाहिनी की विधानसभा शाहगंज की कमेटी घोषित

जौनपुर : समाजवादी लोहिया वाहिनी की विधानसभा शाहगंज की कमेटी घोषित

जौनपुर।
फैज़ान अंसारी
तहलका 24×7
            समाजवादी लोहिया वाहिनी की शाहगंज विधानसभा की कमेटी का गठन रविवार को समाजवादी लोहिया वाहिनी विधानसभा कार्यालय पर जिलाध्यक्ष भानु प्रताप मौर्य व जिला महासचिव आनंद गुप्ता की उपस्थिति में शाहगंज विधानसभा अध्यक्ष सुधांशु यादव के द्वारा किया गया।

सभी नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को उनका मनोनयन पत्र दिया गया। घोषित कार्यकारिणी के अनुसार विधानसभा अध्यक्ष शाहगंज सुधांशु यादव, महासचिव तौफीक अहमद, कोषाध्यक्ष मोहम्मद जाबिर, विधानसभा उपाध्यक्ष राहुल सोनकर, बृजेश गुप्ता, विधानसभा सचिव संतोष प्रजापति, शिवशरण यादव, दीपक रजक, दिलीप विश्वकर्मा, दिलीप यादव, विधानसभा सदस्य संतोष चौधरी, सुनील यादव, मोहम्मद इस्लाम, विशाल यादव, रामगणेश गुप्ता, हैप्पी यादव, सूरज प्रजापति, विपुल यादव, रहबर अली, शिवेंद्र यादव, दीपक प्रजापति सुमंत यादव व ब्लॉक अध्यक्ष खुटहन सचिन मौर्य और ब्लॉक अध्यक्ष सुइथाकलां आफताब आलम को घोषित किए गया।

इस मौके पर समाजवादी लोहिया वाहिनी के जिलाध्यक्ष भानु प्रताप मौर्य ने कहा कि आज की कार्यकारिणी कमेटी ऐसे मौके पर घोषित की जा रही है जब देश में तानाशाह सरकार के द्वारा किसान अधिनियम जैसे काले कानून को पारित किया गया है जिसके खिलाफ में देश का किसान आज सड़कों पर है और आज भी के ठंडी धरने पर बैठा हुआ है और वर्तमान तानाशाह सरकार ने किसानों के ऊपर आंदोलन को तोड़ने के लिए ठंडे पानी की बौछार की गई परंतु आज जब देश में लगभग एक करोड़ किसान अपने अधिकारों को बचाने के लिए धरने पर बैठा हुआ है और यह तानाशाह सरकार किसानों को खालिस्तानी राष्ट्रद्रोही घोषित करने पर तुली हुई है। ऐसे में हम सभी समाजवादी साथियों का कर्तव्य है कि किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर इस सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करें।

इस मौके पर समाजवादी लोहिया वाहिनी के महासचिव आनंद गुप्ता ने सभी नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को हार्दिक बधाई दी और कहा कि देश और प्रदेश के अंदर एक वर्ग विशेष पार्टी के द्वारा फूट डालो राज करो की नीति के अंतर्गत प्रदेश और देश की व्यवस्था संचालित की जा रही है जहां पर शोषित आम जनमानस के अधिकारों का हनन किया जा रहा है ऐसे में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का नैतिक कर्तव्य बनता है कि वह आम जनता के बीच जाकर समाजवादी पार्टी के कार्यों और नीतियों की चर्चा करके चौपालों के माध्यम से जन-जन को जागरूक करने का काम करें जिससे 2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार और राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी को प्रदेश का मुखिया बनाया जा सके।
समाजवादी लोहिया वाहिनी के विधानसभा अध्यक्ष सुधांशु यादव ने कहा कि आज के समय में प्रदेश की स्थिति बेहद चिंताजनक है ऐसे में नौजवानों को राजनीति में आगे आना चाहिए और प्रदेश के बदलते हालात और चिंताजनक स्थिति के खिलाफ मजबूती से आंदोलन के रास्ते जाकर जन-जन के बीच में रहकर जन आंदोलन को मजबूत करना और वर्तमान तानाशाह सरकार को 2022 में उखाड़ फेंकने के लिए काम करना होगा और 2022 में सपा की सरकार को लाना होगा।
Previous articleजौनपुर : डिजिटल मीडिया ने सभी संवादों को बनाया सरल
Next articleजौनपुर : दुर्घटना में मृत महिलाओं के स्वजनों से मिलकर जताई संवेदना
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏