जौनपुर : समाधान दिवस पर आये सर्वाधिक भूमि विवाद से जुड़े मामले

जौनपुर : समाधान दिवस पर आये सर्वाधिक भूमि विवाद से जुड़े मामले

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                    जिलाधिकारी की अध्यक्षता में सोमवार को आजमगढ़ रोड स्थित कृषि उत्पादन मंडी समिति परिसर में आयोजित समाधान दिवस निर्धारित समय से दो घंटे विलंब से शुरु हुआ। डीएम के देर से पहुंचने पर काफी फरियादी मायूस होकर लौट गए।
फिलहाल फरियादियों द्वारा दिए गए 57 प्रार्थना पत्रों में 12 का मौके पर निस्तारण किया गया। दोपहर पौने एक बजे पहुंचे जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के सामने फरियादियों द्वारा जमीनी विवाद के ज्यादातर मामले रहे। क्षेत्र पंचायत सदस्य व भाजपा नेता ने जनहित की समस्या के निदान के लिए प्रार्थना पत्र दिए।
सोंधी शाहगंज ब्लाक के भुड़कुड़हा गांव निवासी शकील अहमद ने प्रार्थना पत्र देकर बताया कि गाँव के मनबढ़ लोगों द्वारा खेती की जमीन पर कब्जा किया गया था। अगस्त महीने में मुख्य राजस्व अधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए उक्त भूमि की पैमाइश कराकर निशानदेही करायी थी। लेकिन दो महीने बाद खूँटा उखाड़ कर पुनः कब्जा कर लिया गया है।
वहीं उड़ली गांव निवासी सरिता पत्नी राम गरीब ने प्रार्थना पत्र देकर बताया कि पति पत्नी दोनों दिव्यांग हैं जो बेहद गरीब हैं। दो साल से प्रधानमंत्री आवास योजना में आवास के लिए चक्कर काटने को मजबूर हैं।
सुईथाकलां ब्लाक के चिलबिली गांव निवासी गायत्री देवी पत्नी चंद्रभान तिवारी ने प्रार्थना पत्र देकर पूर्व प्रधान पर गम्भीर आरोप लगाया है। कहा आवास योजना के तहत पूर्व प्रधान ने झांसा देकर बैंक से लोन पास करा दिया। लोन की रकम से बीस हजार रुपये भी ले लिया। पैसा मांगने पर धमकी मिल रही है।
रामनगर निवासी मनोज पांडेय ने आरोप लगाया कि खेत में खड़ी धान की फसल काटने से मनबढ़ पड़ोसी रोक रहे। स्थानीय पुलिस के हस्तक्षेप के बाद फसल काटी गई अब रंगदारी मांग रहे हैं। न देने पर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पीड़ित ने सुरक्षा की गुहार लगायी है।
क्षेत्र पंचायत सदस्य तारा तिवारी ने डीएम को पत्रक देकर बताया कि रामनगर अर्सियां बिलवाई मार्ग पर नौ किलोमीटर सड़क निर्माण पीएमजी एफवाई द्वारा स्वीकृत था। छह किमी निर्माण करके ठेकेदार लापता है। तीन किमी सड़क न बनने के कारण बाइक, साइकिल सवारों व पैदल चलने वालों को काफी परेशानी हो रही है। तत्काल कार्य पूरा कराने की अपील की।
भाजपा नेता बेचन सिंह ने पत्रक देकर बताया कि सहकारी समितियों पर डीएपी की भारी किल्लत के कारण किसान बुआई नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने किसानों की समस्या का समाधान कराने की मांग की।
इस मौके पर पुलिस अधीक्षक अजय साहनी, अपर पुलिस अधीक्षक डाॅ. संजय कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. लक्ष्मी सिंह, उप जिलाधिकारी नीतीश कुमार, तहसीलदार पवन कुमार, नायब तहसीलदार अमित सिंह समेत तमाम विभागों के अधिकारी व राजस्वकर्मी मौजूद रहे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : अवैध गांजा के साथ पांच अभियुक्तों को चंदवक पुलिस ने किया गिरफ्तार
Next articleजौनपुर : ताला जड़ साधन सहकारी समितियों के सचिवों ने किया प्रदर्शन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏