जौनपुर : सेनापुर शहीद स्मारक पर मनाई गई महाराजा सुहेलदेव की जयन्ती

जौनपुर : सेनापुर शहीद स्मारक पर मनाई गई महाराजा सुहेलदेव की जयन्ती

# ऐसे महापुरुषों के शौर्य और पराक्रम पर हम सभी को गर्व- राम दरश चौधरी

केराकत।
विनोद कुमार
तहलका 24×7
                   प्रदेश सरकार पहली बार महाराजा सुहेलदेव की जयंती एक उत्सव के रूप में मना रही है। प्रदेश भर के शहीद स्थलों पर सुबह 9:30 बजे से भव्य रूप से कार्यक्रम कराने व शाम 6:30 बजे दीप प्रज्वलित का कार्यक्रम कराये जाना सुनिश्चित किया गया। इसी क्रम में स्थानीय विकास खण्ड के सेनापुर शहीद स्मारक के प्रांगण में महाराज सुहेलदेव की जयंती ग्राम प्रधान रमेश कुमार की अध्यक्षता में मनाई गईं जिसमे मुख्य अतिथि के रूप में क्षेत्रीय विधायक दिनेश चौधिरी को पहुंचना था।

लेकिन लखनऊ कार्यक्रम के चलते नहीं आ पाए उनकी अनुपस्थिति में मुख्य अतिथि के रूप में खण्ड विकास अधिकारी राम दरश चौधरी रहे।कार्यक्रम की शुरुआत इंटर कॉलेज की छात्राओं के प्रभात फेरी से हुआ है व शहीद स्तम्भ पर पुष्प अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गयी कार्यक्रम को खण्ड विकास अधिकारी राम दरश चौधरी ने अपने संबोधन में बताया कि हम सभी की अपने महापुरुषों के पराक्रम को कभी नही भूलना चाहिए हम सभी को महाराजा सुहेलदेव के शौर्य और पराक्रम की कहानी अपने आने वाली पीढ़ियों को बताना चाहिए कि कैसे महाराजा सुहेलदेव ने बहराइच के चित्तौर झील के तट पर 15 जून 1033 को सैय्यद सालार मसूद की सेना के बीच भयंकर युद्ध हुआ इस युद्ध मे महाराजा सुहेलदेव की सेना ने सालार मसूद की सेना को गाजर मूली की तरह काट दिया था।

यह युद्ध इतना भयानक था कि आने वाले 100 वर्षों तक किसी मुगल ने भारत से युद्ध करना तो दूर बल्कि देखने की भी हिम्मत नही किया। उपस्थित लोगो मे ग्राम विकास अधिकारी आसिफ अंसारी, साजिद अंसारी, जयेश यादव, रमेश यादव, शिवकुमार, सफाईकर्मी में सुरेंद्र कुमार, दिलीप कुमार व अन्य सफाईकर्मी सहित ग्राम वासी मौजूद रहे।
Feb 16, 2021

Previous articleजौनपुर : अबूझ हालत से लगी आग में भूसा व खाद्यान्न जलकर खाक
Next articleजौनपुर : दिनदहाड़े ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏