जौनपुर : स्थापना दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रम ने बांधा समां

जौनपुर : स्थापना दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रम ने बांधा समां

# कुलपति ने प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के रज्जू भैया संस्थान के आर्यभट्ट सभागार में विश्वविद्यालय के स्थापना दिवस के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर समारोह में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।इस अवसर पर कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस मौर्य ने कहा कि‌ सांस्कृतिक कार्यक्रम में आज जो प्रस्तुतियां हुई है वह विद्यार्थियों की तपस्या की देन है।सभी प्रतिभागियों एक अलग कलाकार देखने को मिला है।

विश्वविद्यालय विद्यार्थियों की प्रतिभाओं को तराशने के लिए आने वाले समय में प्रशिक्षण भी देगा। विश्वविद्यालय के विद्यार्थी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना प्रदर्शन करे विश्वविद्यालय स्तर पर उन्हें सहयोग दिया जायेगा।सांस्कृतिक कार्यक्रम में ‌देश की विभिन्न संस्कृतियों का समागम देखने को मिला। विश्वविद्यालय की‌ छात्र और छात्राओं ने अपने अभिनय नृत्य और संगीत के माध्यम से समा बांधे रखा। कार्यकम में एकल नृत्य, भरतनाट्यम, भजन, समूह नृत्य, एकल गान, मूक अभिनय, गढ़वाली नृत्य आदि कार्यक्रम हुए। आयोजन सचिव डॉ ऋषिकेश ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया।

कार्यक्रम का संचालन अनु त्यागी, डॉ धर्मेंद्र सिंह एवं धन्यवाद ज्ञापन प्रो अजय द्विवेदी ने किया। इस अवसर पर वित्त अधिकारी संजय राय, कुलसचिव महेंद्र कुमार, सहायक कुलसचिव बबिता, सह संयोजक डॉ दिग्विजय सिंह राठौर, प्रमेन्द्र विक्रम सिंह, डॉ जाया शुक्ला, डॉ शशिकांत यादव,प्रदीप कुमार, डॉ प्रमोद कुमार, डॉ. रजनीश भास्कर, डॉ नूपुर तिवारी, डॉ सुशील कुमार, डॉ सुनील कुमार, डॉ अवध बिहारी सिंह, डॉ जान्हवी श्रीवास्तव, डॉ श्याम कन्हैया सिंह, डॉ स्वर्ण सिंह, डॉ प्रवीण कुमार, डा. पुनीत धवन, विद्युत मल्ल, डॉ विनय वर्मा, डॉक्टर आलोक दास आदि उपस्थित थे।
Previous articleजौनपुर : मन, वचन और कर्म से पवित्रता भी महान विभूतियों को सच्ची श्रद्धांजलि- डॉ अखिलेश्वर शुक्ला
Next articleजौनपुर : गांधी के एकादश व्रत को जीवन में करें आत्मसात- कुलपति
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏