जौनपुर : हृदयाघात से वायु सैनिक की हुई मौत, क्षेत्र में शोक की लहर

जौनपुर : हृदयाघात से वायु सैनिक की हुई मौत, क्षेत्र में शोक की लहर

# गांव के बेटे के पार्थिव शरीर को तिरंगे में लिपटा देख सभी की आंखे हुई नम

# पूरे सम्मान के साथ वायु सैनिक का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                    सरपतहां थाना क्षेत्र के सारी जहांगीरपट्टी गांव निवासी वायु सैनिक का दिल्ली के सैनिक अस्पताल में सोमवार देर रात हार्ट अटैक से निधन हो गया। बुधवार भोर में पार्थिव शरीर घर पहुंचते ही कोहराम मच गया। मृतक को पिलकिछा घाट पर स्थानीय प्रशासन की उपस्थिति में वायुसेना के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया।

रणविजय सिंह (27) पुत्र स्व. विनोद सिंह का वर्ष 2010 में वायुसेना में चयन हुआ था। वर्तमान समय मे उनकी तैनाती दिल्ली में कारपोरल पद पर थी। परिजनों के मुताबिक सोमवार को उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई। जिसके बाद उन्हें सैनिक अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के दौरान देर रात हृदयगति रुकने से निधन हो गया। निधन की खबर घर पहुंचते ही जहां परिवार में कोहराम मच गया वहीं पूरे गांव में मातम पसर गया।
बुधवार शाम वायुसेना के सारजेन्ट कुलदीप यादव के नेतृत्व में विमान से उनका शव बमरौली एयरपोर्ट इलाहाबाद पहुंचा। उसके बाद भोर में पार्थिव शरीर एंबुलेंस से पैतृक गांव सारी जहांगीरपट्टी पहुंचा। जहां पार्थिव शरीर पर सेना के जवानों ने पुष्पचक्र अर्पित कर परिवार तथा अन्य लोगों को अंतिम दर्शन के लिए रखा। जिसके बाद पूरे सैनिक सम्मान के साथ अंतिम संस्कार के लिए पिलकिछा घाट के लिए रवाना हुए।

# घर का अकेला कमाने वाला था रणविजय

क्षेत्र के सारी जहांगीरपट्टी गांव निवासी वायु सैनिक रणविजय सिंह अपने घर का अकेले कमाने वाला था। पांच भाई-बहनों में दूसरे नम्बर पर रणविजय के पिता विनोद सिंह की आठ माह पूर्व बीमारी के चलते मृत्यु हो चुकी है। बड़ी बहन की शादी हो चुकी है जबकि रणविजय अभी अविवाहित थे। अब इस परिवार पर आर्थिक संकट की समस्या खड़ी हो गई है।

# पूरे सम्मान के साथ वायु सैनिक का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
                      सरपतहां के सारी जहांगीरपट्टी गांव निवासी वायु सेना के जवान के पार्थिव शरीर की अंत्येष्टि बुधवार की दोपहर पिलकिछा घाट के गोमती तट पर पूरे सैनिक सम्मान के साथ किया गया। सेना के जवान का पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन हो गया। सर्वप्रथम जवान के शव को पिलकिछा घाट पर स्थानीय प्रशासन की मौजूदगी में वायु सेना के जवानों द्वारा गार्ड आफ आनर दिया गया। तिरंगे में लिपटे शव को देखकर राहगीरों के पांव घाट पर थम गये। लोगों ने सैल्यूट कर जवान को अंतिम विदाई दी।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : खेतासराय के युवक की सऊदी अरब में कार दुर्घटना में मौत
Next articleजौनपुर : पुलिस मुठभेड़ में तीन शातिर लुटेरे गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏