जौनपुर : 17 से 30 नवंबर तक किसान मोर्चा निकालेगा ट्रैक्टर रैली

जौनपुर : 17 से 30 नवंबर तक किसान मोर्चा निकालेगा ट्रैक्टर रैली

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश के जिला मुख्यालयों पर 17 नवम्बर से 30 नवम्बर तक विशाल किसान ट्रैक्टर रैली निकालेगा। इसका शुभारम्भ 17 नवम्बर को पूर्वी उत्तर प्रदेश के जनपद मऊ से किया जाएगा। उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में विभिन्न तिथियों को यह किसान ट्रैक्टर रैली निकलेगी जिसका शुभारम्भ जनपद मऊ से प्रदेश किसान मोर्चा अध्यक्ष कामेश्वर सिंह जी करेगें। ट्रैक्टर किसानों के उन्नत प्रगति तथा उत्थान का प्रतीक है। ट्रैक्टर रैली के माध्यम से किसानों को यह संदेश देंगे कि देश की आजादी के बाद नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की सरकार तथा योगी के नेतृत्व में प्रदेश की सरकार ने किसानों के हित में जितने निर्णय लिए है उतने अभी तक किसी सरकार ने नहीं लिए हैं।

चार वर्षों में गन्ना मूल्य का रिकार्ड भुगतान, बंद चीनी मिलों को चलाना तथा नयी चीनी मिलों को लगाकर योगी जी ने ऐतिहासिक कार्य किया है। 2017 में भाजपा सरकार बनने के बाद प्रथम कैबिनेट की बैठक में ही योगी ने लगभग 86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ का कृषि ऋण माफ किया साथ ही साथ बिजली का सरचार्ज भी माफ किया। योगी आदित्यनाथ ने डार्कजोन में बंद बिजली के कनेक्शन को पुनः ट्यूबेल हेतु खोलकर लाखों किसानों के हित में बहुत बडा निर्णय लिया है। चार वर्ष में योगी सरकार ने तीन नयी चीनी मिलें लगाई, 14 नए डिस्टलरी खोले तथा 20 चीनी मिलों का क्षमता वृद्धि तथा आधुनिकरण किया। चार वर्ष में ही सरकार के प्रयास के कारण गन्ने की खेती का क्षेत्रफल 20 लाख हेक्टेयर से बड़कर 28 लाख हेक्टेएयर हो गया। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना कृषक दुर्घटना बीमा योजना के कारण किसानों के परिवारों को बहुत सहायता मिल रही है उक्त बातें किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष नरेंद्र उपाधयाय ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति के माध्यम से कही है।

उत्तर प्रदेश में किसानों के खेतों की मिट्टी की गुणवत्ता की जांच हेतु चार करोड़ किसानों को मृदा हेल्थ कार्ड जारी किया गया है जिसका प्रयोग करके किसानों ने अपने उत्पादन क्षमता में पांच से छह प्रतिशत वृद्धि की है। उत्तर प्रदेश में एग्रीकल्चर इन्फाट्रक्चर फंड योजना के अन्तर्गत गोदामों व गोल्ड स्टोरेज का जाल बिछाया जा रहा है। जिससे किसानों को उपज का वाजिब दाम मिलेगा और यह किसानों की उपज के लिए सुरक्षा कवच का कार्य करेगी 220 नयी मंडी स्थल निर्मित किये गए है। 27 मंडियों का आधुनिकरण किया गया तथा 27 मंडियों में कोल्ड चैम्बर राईपनिंग चैम्बर का निर्माण किया गया है। 20 नए कृषि विज्ञान केन्द्रों की स्थाना की गई है। द मिलियन फार्मर्स स्कूल में 55 लाख से अधिक किसानों को प्रशिक्षण दिया गया है तथा किसानों को उच्च गुणवत्ता के फल एवं सब्जी की पौध उपलब्ध कराने के लिए हापुड़, मऊ, बहराइच, अलीगढ़, फतेहपुर, रामपुर व अम्बेडकर नगर में साम मिनी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस स्थापित किया गया है। भारत सरकार के अखिल भारतीय मार्केटिंग पोर्टल ई- नाम पर उत्तर प्रदेश भी है तथा 291 वर्चुअल मंडियों के माध्यम से प्रदेश के 87 लाख किसान व 34 हजार व्यवसायी जुड़कर व्यापार कर रहे है। 45 प्रकार के कृषि उत्पादन मंडी शुल्क से मुक्त कर दिये गए है तथा मंडी शुल्क भी 1.5 प्रतिशत घटाया गया है।

किसानों को कृषि यंत्रों पर मूल्य का 50 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है तथा एफ.पी. ओ पंजीकृत किसान समिति/ पंजीकृत स्वयं सहायता समूह को कृषि मशीनरी बैंक स्थापित करने के लिए मंत्रों पर 80 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कृषि एवं किसानों के लिए पिछले 7 सालों में जितने काम हुए है उतने आजादी के 70 सालों में भी नहीं हुए। फसल बीमा योजना में सुधार, एम.एस.पी को डेढ़ गुना करना, छोटे किसानों के लिए किसान क्रेडिटकार्ड की व्यवस्था, विश्व भर में महंगी हुई डी.ए.पी. एवं यूरिया को खुद से सब्सिडी बढ़ाकर किसानों को पुराने दामों पर ही देने का सराहनीय कार्य किया है। सोलर पावर से जुड़ी योजानएं, हर खेत तक पानी पहुंचाने की पहल, एफ.पी.ओ.एस का गठन, इन सब प्रयासों से किसान की आय दुगनी करने में सार्थक पहल हुई है। देश के 70 से ज्यादा रेल रूटों पर किसान रेल चल रही है। किसान सम्मान निधि के तहत 9 किस्तों में 1.53 लाख करोड़ रुपये से अधिक की सहायता राशि सीधे किसानों के एकाउंट में पहुंचायी जा चुकी है। पशु एम्बुलेंस को पशु पालक के द्वारा पहुंचाने हेतु मोदी सरकार द्वारा 53 हजार करोड़ रूपये का प्रोजेक्ट जारी किया गया है। किसानों के लिए समर्पित भाव से काम करने वाले हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अथक प्रयासों के लिए भाजपा किसान मोर्चा उत्तर प्रदेश आभार प्रकट करता है।
Previous articleजौनपुर : दरगाह का फाटक खुलते ही जायरीनों ने टेका मत्था
Next articleजौनपुर : हत्या के मुकदमें में वांछित अभियुक्त को पुलिस ने किया गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏