“तहलका 24×7” की खबर पर 2 दिन बाद लगी मुहर…

“तहलका 24×7” की खबर पर 2 दिन बाद लगी मुहर…

# पुलिस के अनुसार स्कार्पियो चालक ने कबूला 40 लाख नहीं बल्कि 4 करोड़ की हुई थी “लूट”

# एमपी के सिवनी की पुलिस ने बरामद किए थे लूट के पौने दो करोड़ रुपए

# लूट की रकम के बारे में सर्राफा व्यापारी की चुप्पी बरकरार

लखनऊ।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                   वाराणसी के प्रतिष्ठित सर्राफ के करोड़ों रुपए लूटे/हड़पे जाने की “तहलका 24×7” की खबर “लूटे गए करोड़ों रुपए, सर्राफ ने बताया 40 लाख की हुई लूट” पर अब पुलिस ने भी 2 दिन बाद मुहर लगा दी है। यूपी के कौशांबी जिले के कोखराज थाना व प्रतापगढ़ के हथिगवां थाना क्षेत्र के जहानाबाद में 30 जनवरी की रात “40 लाख रुपए” एवं स्कॉर्पियो लूट कांड का पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए बताया कि मास्टरमाइंड स्कार्पियो चालक ने लोन का पैसा अदा करने के लिए अपने सगे भाई सहित दो अन्य साथियों के साथ मिलकर लूटकांड को अंजाम दिया था और स्कार्पियो को कोखराज थाना क्षेत्र में छोड़ दिया था, जिसका मुकदमा कोखराज थाने में दर्ज किया गया था।


पुलिस की जांच में यह भी सामने आया है कि सर्राफा कारोबारी ने लूट की सही रकम एफआईआर में नहीं लिखाई थी, सिर्फ 40 लाख रुपए ही लूटे जाने की बात एफआईआर में लिखी थी जबकि पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए मास्टरमाइंड स्कार्पियो चालक ने पूछताछ के दौरान 4 करोड़ रुपए लूटने की बात कबूली है। लूट कांड से पर्दा हटने के बाद अब कारोबारी भी सामने नहीं आ रहा है और ना ही चार करोड़ की बात कबूल कर रहा है। इससे तमाम सवाल खड़े हो रहे हैं। कौशांबी के पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने 5 फरवरी शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि यह रकम दिल्ली के अनिल गोयल नाम के व्यक्ति के पास जाती थी, जिसका कोई लेखा-जोखा नहीं होता था। अब पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि इतनी बड़ी रकम से क्या होता था।

                     “तहलका 24×7” पर 4 फरवरी को चली खबर

बताते चलें कि 30 जनवरी की रात प्रतापगढ़ जनपद के हथिगवां थाना क्षेत्र में वाराणसी के सर्राफा व्यापारी की स्कार्पियो गाड़ी को लुटेरों ने लूट लिया था ? लुटेरे “लूटी” गई स्कार्पियो को कौशाम्बी जनपद के कोखराज थाना क्षेत्र में छोड़ कर भाग गए थे। कोखराज थाना पुलिस ने स्कार्पियो को बरामद कर जांच शुरू की तो लूट/रुपए हड़पे जाने की सनसनीखेज घटना सामने आई। प्रतापगढ़ और कौशाम्बी की पुलिस ने जांच शुरू की, उस समय सर्राफा व्यापारी रिंकू ने बताया था कि उनकी जेपी ज्वेलर्स के नाम से वाराणसी में ज्वेलरी शॉप है। उनकी गाड़ी ड्राइवर और मुनीम लेकर दिल्ली जा रहे थे, प्रतापगढ़ जिले में उनकी गाड़ी और 40 लाख रुपया लूट लिया गया। इस “लूट” की घटना में एक नया मोड़ तब आया जब 1 फरवरी को मध्य प्रदेश के सिवनी जिले की कुरई थाने की पुलिस ने एक इनौवा कार से करीब पौने दो करोड़ रुपए बरामद कर 3 लोगों की गिरफ्तारी की।


“तहलका 24×7” ने इस बरामदगी और गिरफ्तारी की खबर 4 फरवरी को जब प्रमुखता से चलाई तो उसके बाद यूपी पुलिस के अधिकारियों ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कौशांबी पुलिस को गहराई के साथ पूरे मामले की जांच करने को कहा था। अब 2 दिन बाद कौशांबी पुलिस ने “तहलका 24×7” की खबर पर मुहर लगा दी है।

                      एसपी अभिनंदन.. हां 4 करोड़ की हुई थी “लूट!”

कौशांबी पुलिस के अनुसार पकड़े गए “लुटेरे” ने 4 करोड़ रुपए लूटे/हड़पे जाने की बात स्वीकार की है। कौशांबी के सीओ डाॅ कृष्ण गोपाल सिंह कुरई में पकड़े गए लोगों से पूछताछ के लिए सिवनी गए थे, कहा गया है कि सिवनी की पुलिस ने कौशांबी पुलिस का नियमानुसार उचित सहयोग नहीं किया। मध्य प्रदेश पुलिस मामले में चुप्पी धारण किए हुए है, सिवनी के एसपी प्रतीक कुमार के अनुसार पकड़े गए इनोवा चालकों से 1 करोड़ 74 लाख की ही बरामदगी हुई थी।
Feb 06, 2021

Previous articleजौनपुर : अमरावती मिश्रा जी की 19वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन
Next articleजौनपुर : रासेयो के सप्त शिविर में स्वयंसेवकों ने किया श्रमदान
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏