तुलसीपुर के सपा नेता/पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष की गोली मारने के बाद गला रेतकर हत्या

तुलसीपुर के सपा नेता/पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष की गोली मारने के बाद गला रेतकर हत्या

# घर के पास ही पान की दुकान पर हुआ हमला, बदमाश फरार, समर्थकों में भारी रोष-तनाव

# मृतक फिरोज पप्पू की पत्नी हैं वर्तमान में नगर पंचायत अध्यक्ष

लखनऊ/बलरामपुर।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                 सपा नेता व तुलसीपुर नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष फिरोज उर्फ पप्पू की घर के पास अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। बदमाशों ने दरिंदगी की हदें भी पार कर दी, गोली मारने के बाद पूर्व अध्यक्ष का रेता गला। सीएचसी तुलसीपुर में समर्थकों और सपा नेताओं की भारी भीड़ जुटी। भारी पुलिस बल और आला अधिकारी भी मौके पर मौजूद।
वर्तमान में फिरोज पप्पू की पत्नी तुलसीपुर नगर पंचायत की अध्यक्ष हैं। गोली मारने के बाद बदमाशों ने धारदार हथियार से फिरोज पप्पू के शरीर पर कई जगह वार किए। परिजन फिरोज पप्पू को लेकर सीएचसी तुलसीपुर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पान की दुकान पर सिगरेट खरीदते समय हमला किया गया। सूचना मिलने पर एसपी हेमंत कुटियाल फोर्स के साथ सीएचसी पहुंचे और मामले की जानकारी ली। घटना को लेकर पूर्व चेयरमैन के समर्थकों में भारी आक्रोश है।
                    मृतक फिरोज पप्पू (फाइल फोटो)
पूर्व चेयरमैन फिरोज पप्पू मंगलवार रात जरवा रोड स्थित अपने घर जा रहे थे, करीब 11 बजे घर की गली के मोड़ के निकट पान की दुकान पर वह सिगरेट खरीदने लगे। तभी अचानक बदमाशों ने पहले उन्हें गोली मारी। इसके बाद धारदार हथियार से उनके गले, सिर और शरीर के अन्य हिस्सों पर हमला किया, जिससे उनकी मौत हो गई। तनाव को देखते हुए पूर्व चेयरमैन के आवास पर भारी पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है। एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि घटना के खुलासे के लिए 4 पुलिस टीमें लगाई गई हैं। करीब 6 संदिग्धों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ की जा रही है। सर्विलांस टीम भी सक्रिय है।
                                                       पत्नी कहकशां के साथ (फाइल फोटो)
डीआईजी देवीपाटन मंडल उपेंद्र कुमार अग्रवाल ने भी मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। वहीं, घटना को लेकर पूर्व चेयरमैन के समर्थकों और समाजवादी पार्टी के नेताओं में आक्रोश है। देर रात फिरोज पप्पू के समर्थक और परिजन घटना में शामिल लोगों गिरफ्तारी की मांग करते रहे और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजने से इनकार कर दिया। डीआईजी और एसपी समेत तमाम आला अधिकारियों के समझाने और जल्द से जल्द घटना में शामिल लोगों को पकड़ने के आश्वासन के बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा जा सका।

Earn Money Online

Previous articleपंजाब के फिरोजपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, वापस लौटे दिल्ली
Next articleजौनपुर : वन माफियाओं ने तीन हरे शीशम के पेड़ को काटा
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏