थाईलैंड की युवती की “रहस्यमय” मौत के मामले की पुलिस ने शुरू की जांच

थाईलैंड की युवती की “रहस्यमय” मौत के मामले की पुलिस ने शुरू की जांच

# युवती को लखनऊ किसने और क्यों बुलाया ? मददगार कौन ? अभी सवालों के घेरे में…

# डीसीपी (पूर्वी) के नेतृत्व में जांच टीम का गठन

लखनऊ।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                     थाईलैंड की युवती की लखनऊ में हुई रहस्यमय मौत के मामले में तमाम सवाल उठने और इस मामले में भाजपा सांसद संजय सेठ के बेटे पर सपा प्रवक्ता आईपी सिंह द्वारा आरोप लगाए जाने, सांसद द्वारा पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखे जाने एवं पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर व उनकी पत्नी नूतन ठाकुर द्वारा भी मामले की गहराई से जांच के लिए गृह सचिव/डीजीपी/पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखे जाने के बाद अब मामले की जांच के लिए डीसीपी (पूर्वी) के नेतृत्व में जांच टीम गठित की गई है।
“तहलका 24×7” पर इस बारे में चली खबर
बताते चलें कि थाईलैंड की युवती पियाथिडा की लखनऊ में हुई रहस्यमय मौत, जिसे कोरोना से मौत होना बताया जा रहा है, के मामले में नया सनसनीखेज मोड़ तब आ गया जब सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता (पूर्व भाजपा नेता) आईपी सिंह ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि दुनिया भर में महात्रासदी के बीच थाईलैंड से काॉलगर्ल बुलाई गई, जिसकी अब कोरोना से मौत हो गई। अपने ट्वीट में आईपी सिंह ने लिखा कि क्या यूपी पुलिस में हिम्मत है कार्यवाही करने व जांच करने की ?
आरोप गलत, निष्पक्ष जांच हो- संजय सेठ

# मेरे परिवार की प्रतिष्ठा खराब की जा रही है- सेठ…

आईपी सिंह के आरोप के बाद भाजपा से राज्यसभा सदस्य/कारोबारी संजय सेठ ने पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर को पत्र लिखकर पूरे प्रकरण की जांच की मांग की। उनका कहना है कि उनके परिवार की प्रतिष्ठा खराब करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होने युवती की पुष्ठभूमि, पासपोर्ट नंबर, मोबाइल की काॅल डिटेल, लखनऊ में कहां रही, कब किससे मिली, होटल किसने बुक कराया, होटल आने-जाने, विजिटर्स से मुलाकात की सीसीटीवी फुटेज, युवती को अस्पताल में किसने भर्ती कराया, सलमान गाइड की भूमिका आदि की जांच की मांग की है।
मामला कोर्ट में ले जाऊंगा- आईपी सिंह

# मामले की सीबीआई जांच हो- आईपी सिंह…

वहीं सपा प्रवक्ता आईपी सिंह ने मांग की है कि इस मामले की सीबीआई जांच हो। उनका कहना है कि जब मैंने यूपी पुलिस को टैग करके जांच की मांग की तो तो सेठ मुझ पर ही आरोप लगाकर धमका रहे हैं। उन्होने सवाल किया कि क्या युवती के शव का पोस्टमार्टम हुआ, मौत की वजह क्या है, शिवम कौन है और किसके लिए काम करता है, क्या वह पुलिस की हिरासत में है, एजेंट सलमान व राकेश शर्मा कहां है, वे किसके कहने पर लड़की को लेकर आए, जिस पूंजीपति का जिक्र हो रहा है उसका नाम अब तक सार्वजनिक क्यों नहीं किया गया। आईपी सिंह ने कहा कि इस प्रकरण में मुझे कोर्ट जाना पड़ा तो जाऊंगा।
पहले एफआईआर दर्ज हो- नूतन ठाकुर

# धारा 154(3) CRPC में हो एफआईआर…

उधर पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर तथा डॉ नूतन ठाकुर ने थाईलैंड की कथित कॉलगर्ल की रहस्यमय मृत्यु के संबंध में लखनऊ पुलिस द्वारा की जा रही जाँच को विधि विरुद्ध बताते हुए एफआईआर की मांग की। पुलिस कमिश्नर लखनऊ को भेजे अपने प्रार्थनापत्र में उन्होने कहा कि कल इस मामले में उन्होने एफआईआर की मांग की थी, अब तक इस संबंध में कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई है और लखनऊ पुलिस द्वारा बताया गया है कि मामले की “जाँच” डीसीपी पूर्वी को दी गयी है। अमिताभ तथा नूतन ने कहा कि उनके द्वारा प्रस्तुत प्रार्थनापत्र में धारा 5 अनैतिक (व्यापार) निवारण अधिनियम 1956 के साथ आईपीसी की धारा 109 (अपराध का दुष्प्रेरण), 120B (आपराधिक षड़यंत्र), 177 (लोक सेवक को मिथ्या सूचना देना), 193 (मिथ्या साक्ष्य देना), 201 (साक्ष्य विलोपन), 203 (मिथ्या सूचना देना), 465 व 466 (सरकारी अभिलेखों में कूटरचना) का अपराध दिख रहा है, जो संज्ञेय अपराध है।
“तहलका 24×7 ” पर इस बारे में चली खबर

# जांच शुरू कर दी गई है- पुलिस कमिश्नर…

लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर का इस मामले में कहना है कि सांसद संजय सेठ का पत्र मिला है, उन्होने कई बिंदुओं पर जांच की मांग की है। जांच शुरू कर दी गई है, डीसीपी (पूर्वी) संजीव सुमन के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया है। गाइड सलमान व अन्य आरोपितों से पूछताछ हो रही है। पुलिस कमिश्नर के अनुसार नूतन ठाकुर की ओर से ई-मेल के जरिए एफआईआर करने की मांग की गई है, उसे भी जांच में शामिल कर लिया गया है।
Previous articleजौनपुर : कोरोना काल में एक बार फिर आगे आये उद्योगपति ज्ञान प्रकाश सिंह
Next articleजौनपुर : कंटेनमेंट जोन घोषित के कारण नई सब्जी मंडी 13 मई तक पूर्णतः बंद
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏