36.7 C
Delhi
Sunday, May 19, 2024

दवाओं के प्रभाव को समझने में कंप्यूटेशनल केमेस्ट्री मददगार : प्रो. वंदना सिंह

दवाओं के प्रभाव को समझने में कंप्यूटेशनल केमेस्ट्री मददगार : प्रो. वंदना सिंह

जौनपुर। 
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव 
तहलका 24×7
            वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर स्थित प्रो. राजेंद्र सिंह रज्जू भैया भौतिकीय विज्ञान अध्ययन एवं शोध संस्थान के रसायन विज्ञान विभाग द्वारा आयोजित कंप्यूटेशनल केमिस्ट्री एंड मॉलिक्यूलर डिजाइन विषय पर सात दिवसीय कार्यशाला के पांचवें दिन आण्विक डॉकिंग पर व्याख्यान और प्रशिक्षण आयोजित किया गया।
प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. वंदना सिंह ने प्रतिभागियों को कंप्यूटेशनल केमेस्ट्री के विभिन्न उपयोगों से परिचित कराया। प्रो. सिंह ने कहा कि विभिन्न विभिन्न अभिक्रियाओं को प्रयोगशाला में करने से पहले हम कंप्यूटर के माध्यम से विभिन्न तरीकों से उनके बारे में अध्ययन कर सटीक परिणाम प्राप्त कर सकते हैं।
प्रोफेसर सिंह ने कहा कि कंप्यूटेशनल केमेस्ट्री की मदद से हम दवाओं का तथा विभिन्न पदार्थों के गुणों को जान सकते हैं।कार्यशाला के प्रथम सत्र में रसायन विभाग मगध विश्वविद्यालय बोधगया डॉ. सुमित कुमार ने प्रतिभागियों को मॉलेक्युलर डॉकिंग तथा उसके प्रयोग के विषय में बताया। डॉ. सुमित ने ऑटोडॉक की मदद से प्रोटीन और दवाओं के बीच डॉकिंग करके दिखाते हुए प्रशिक्षित किया।
डॉ. सुमित ने कहा प्रोटीन, पेप्टाइड्स,  न्यूक्लिक एसिड, कार्बोहाइड्रेट और लिपिड जैसे जैविक रूप से प्रासंगिक अणुओं के बीच संबंध सिग्नल ट्रांसडक्शन में केंद्रीय भूमिका निभाते हैं।इसके अलावा, दो इंटरैक्टिंग साझेदारों का सापेक्ष अभिविन्यास उत्पादित सिग्नल के प्रकार को प्रभावित कर सकता है। इसलिए, डॉकिंग उत्पादित सिग्नल की शक्ति और प्रकार दोनों की भविष्यवाणी करने के लिए उपयोगी है।
इस अवसर पर अतिथियों का स्वागत प्रो. प्रमोद कुमार यादव ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ. प्रमोद कुमार ने किया। संचालन डॉ. नितेश जायसवाल ने किया।इस अवसर पर डॉ. अजीत सिंह, डॉ. मिथिलेश यादव, डॉ. दिनेश वर्मा, डॉ. विजय शंकर व प्रतिभागी उपस्थित रहे।

तहलका संवाद के लिए नीचे क्लिक करे ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓

लाईव विजिटर्स

37416520
Total Visitors
1044
Live visitors
Loading poll ...

Must Read

Tahalka24x7
Tahalka24x7
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... ?

अज्ञात वाहन की चपेट में आने से अधेड़ की मौत

अज्ञात वाहन की चपेट में आने से अधेड़ की मौत शाहगंज, जौनपुर। तहलका 24x7                नगर...

More Articles Like This