दिल्ली के फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की अफगानिस्तान में हत्या

दिल्ली के फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की अफगानिस्तान में हत्या

# तालिबान की गोलीबारी में मारे गए, 13 जुलाई को भी हुआ था कार पर हमला

# अफगान फोर्सेस के साथ कंधार में कर रहे थे आॅपरेशन की कवरेज

लखनऊ/काबुल।
विजय आनन्द वर्मा
तहलका 24×7
             दिल्ली के रहने वाले पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की अफगानिस्तान के कंधार में गोली मारकर हत्या कर दी गई है। रॉयटर्स के फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की हत्या तालिबान द्वारा किए जाने की खबर है। दानिश की कार पर 13 जुलाई को भी ड्रोन से हमला हुआ था, उसमें वो बाल-बाल बचे थे।
                         दानिश: “लाइव” फोटोग्राफी से मिली थी पहचान
दानिश सिद्दिकी भारत में रॉयटर्स के चीफ फोटो जर्नलिस्ट थे। वह पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित भी किए जा चुके हैं। वे इस वक्त रायटर्स की ओर अफगान फोर्सेस के साथ वहां के वर्तमान माहौल की कवरेज की ड्युटी पर थे। दानिश सिद्दिकी की हत्या अफगानिस्तान कंधार के स्पिन बोल्डक इलाके में एक झड़प के दौरान हुई। कंधार में पाकिस्तान की सीमा के पास तालिबान ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी।

मूल रूप से दिल्ली के रहने वाले दानिश ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया से पढ़ाई की थी। दानिश सिद्दीकी की हत्या की खबर पत्रकार जगत सदमे में है।दानिश ने अपने कैरियर की शुरुआत एक टीवी रिपोर्टर के रूप में की थी और बाद में फोटो जर्नलिस्ट बन गए थे। दानिश को साल 2018 में उनके सहयोगी अदनान आबिदी के साथ पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। दानिश को रोहिंग्या शरणार्थियों के असाधारण कवरेज के लिए यह सम्मान दिया गया था।

                        13 जुलाई को हमले के बाद दानिश का ट्वीट

# विदेश मंत्री जयशंकर ने अशरफ गनी से की चर्चा

इससे पहले भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने गुरुवार को ताशकंद में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात कर युद्धग्रस्त देश से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद वहां तेजी से बिगड़ रही स्थिति पर चर्चा की थी।इसके साथ ही उन्होंने अफगानिस्तान में शांति, स्थिरता और विकास के प्रति भारत का समर्थन दोहराया था।
Previous articleजौनपुर : शहीद स्तम्भ का ग्रेनाइट मार्बल पुनः टूटकर गिरा
Next article“काश साहेब जईसन और अधिकरिऐ काम करतेन तो केतना निक्क रहत”
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏