धर्म संसद के बहाने बापू को खारिज करना सबसे बड़ा अधर्म

धर्म संसद के बहाने बापू को खारिज करना सबसे बड़ा अधर्म

# राकेश टिकैत की मांग : जहर उगलने वालों पर हो सख्त से सख्त कार्रवाई

मुजफ्फरनगर।
स्पेशल डेस्क
तहलका 24×7
               भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने कहा कि धर्म संसद के बहाने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को खारिज करना ही सबसे बड़ा अधर्म है ऐसे अधर्मियों ने मानवता को कलंकित किया है।रायपुर में आयोजित धर्म संसद के दौरान रविवार को संत कालीचरण ने विवादित बयान दिया था।

भाकियू प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने ट्वीट कर कहा कि रघुपति राघव राजा राम के सहारे राम को जन-जन के घट में रोपित करने वाले महात्मा गांधी जैसे युग पुरुष को तथाकथित धर्म संसद के बहाने खारिज करना ही सबसे बड़ा अधर्म है। भाकियू ऐसे किसी भी कृत्य को सिरे से खारिज करती है। उन्होंने कहा कि ऐसे जहरीले बोल कहने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।टिकैत ने कहा कि राष्ट्रपिता ने अपने अहिंसक आंदोलनों से देश के अंदर आजादी की ललक जगाई और अंग्रेजों को भगाने का कार्य किया। देश हमेशा उनका ऋणी रहेगा।

Earn Money Online

Previous articleशिवपाल की पार्टी को चुनाव आयोग ने “स्टूल” चुनाव चिन्ह किया आवंटित
Next articleबीएचयू अस्पताल के खिलाफ छात्रों ने खोला मोर्चा, सिंहद्वार पर तैनात रही पुलिस
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏