नई दिल्ली : 26 अक्टूबर से उत्तर पूर्व मानसून का आगमन

नई दिल्ली : 26 अक्टूबर से उत्तर पूर्व मानसून का आगमन

# पश्चिमी विक्षोभ के कारण देश के कुछ हिस्सों पड़ेंगी बौछारें- IMD

नई दिल्ली।
स्पेशल डेस्क
तहलका 24×7
               भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने दक्षिण-पश्चिम मानसून के वापसी की बात के साथ ही उत्तर-पूर्व मानसून के आने की भी जानकारी दी। मौसम विभाग ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण देश के कई हिस्सों में बारिश हो सकती है। IMD के वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामनि ने शुक्रवार को बताया कि “नवीनतम अपडेट के अनुसार, उत्तर पूर्व, ओडिशा, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के बाकी हिस्सों से 25 अक्तूबर को मानसून की पूरी तरह वापसी हो जाएगी। उत्तर पूर्व मानसून का आगमन 26 अक्टूबर से हो रहा है।”

उन्होंने आगे बताया कि पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) के कारण शनिवार को दिल्ली में बादल छाया रहेगा वहीं जम्मू कश्मीर में बारिश होगी। इसके अलावा पंजाब में भी बौछारें पड़ेंगी लेकिन उत्तराखंड और अन्य इलाकों में बारिश नहीं होगी। मौसम विभाग की मानें तो देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में 25 अक्‍टूबर तक बारिश का दौर बना रहेगा। विभाग का कहना है कि एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र पर बन रहा है जिससे भारी बारिश और ओलावृष्टि की आशंका बन रही है।

मौसम विभाग ने अपने एक बुलेटिन में पहले ही बता दिया कि 22-24 अक्टूबर के दौरान एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ के पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र खास तौर पर जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद को प्रभावित करने की संभावना है। यह 23-24 अक्टूबर के दौरान उत्तर-पश्चिम भारत के आसपास के मैदानी इलाकों पर भी सक्रिय हो सकता है। इसकी वजह से हिमाचल प्रदेश, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में गरज चमक और तेज हवा के साथ ओलावृष्टि और भारी वर्षा की आशंका है।
Previous articleयूपी में माफिया के कब्जे से मुक्त जमीनों पर बनेंगे गरीबों के आवास
Next articleजौनपुर : बड़ागांव सदरे हुसैनी मिशन ने पेश की गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏