परिवार से लड़कर पाया था प्रेमी का साथ, तीन महीने में ही हुआ प्यार का खौफनाक अंत

परिवार से लड़कर पाया था प्रेमी का साथ, तीन महीने में ही हुआ प्यार का खौफनाक अंत

गोरखपुर।
तहलका 24×7
             उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां गोला थाना क्षेत्र के गोपालपुर चौराहे पर शनिवार को दो बाइक से आए चार बदमाशों ने दिनदहाड़े उरुवा ब्लॉक पर तैनात सेक्रेटरी अनीश चौधरी (34) की हत्या कर दी। इस दौरान बचाव करने आए पट्टीदारी के चाचा देवीदयाल (45) पर भी बदमाशों ने हमला कर घायल कर दिया।

करीब तीन साल से जिस प्रेम कहानी की चर्चा पूरे इलाके में थी शनिवार को उसका अंत हो गया। काफी कोशिश के बाद दोनों ने एक दूसरे का हाथ थामा और तीन महीने पहले शादी कर ली थी। 2020 में दोनों घर से फरार हो गए थे तब लड़की के घरवालों ने अपहरण का केस दर्ज कराया था। केस दर्ज होने की जानकारी होने पर दोनों ने सोशल मीडिया पर आपस में प्रेम करने और कोर्ट मैरिज करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया था। इसकी जानकारी होने के बाद पुलिस ने मामले में खत्म कर दिया था और फिर दोनों लौटने के बाद धूमधाम से शादी भी किए थे।

जानकारी के मुताबिक कौड़ीराम ब्लाक में दोनों की तैनाती एक साथ तीन साल पहले थी। इसी दौरान दोनों में प्रेम हो गया था और फिर साथ में शादी करने का फैसला कर लिए थे। दीप्ति मिश्रा के घरवालों ने इसका विरोध भी किया और जब दोनों पक्ष तैयार नहीं हो रहा था तब अनीश अपने प्रेमिका (अब पत्नी) को लेकर फरार हो गए थे। पिता की तहरीर पर पुलिस ने अपहरण का केस भी दर्ज किया था लेकिन दोनों ने एक साथ रहने की बात कहते हुए बालिग होते हुए कोर्ट मैरिज भी कर लिया था। इस वजह से बाद में लड़की के घरवाले भी तैयार हो गए थे और दोनों का धूमधाम से विवाह हुआ था।

# मेरे पति को जिसने मारा ले आओ मैं दूंगी सजा

गोला में सेक्रेटरी अनीश चौधरी की हत्या के बाद बेसुध हुई पत्नी दीप्ति मिश्रा के गुस्से का पुलिस भी सामना नहीं कर पा रही थी। पत्नी ने बोला, मेरे पति को मत छूना, उन्हें वापस लाओ। फिर अगले ही पल उसने यह भी कहा कि आरोपिओं को लेकर आए उन्हें मैं अपने हाथों से सजा दूंगी। उनकी मार्मिक विरोध का जवाब एसपी साउथ भी नहीं दे पा रहे थे और किसी तरह से उन्हें समझाने की कोशिश कर रहे थे। बोलते- बोलते पत्नी बेसुध हो जा रही थी तो किसी तरह से समझाकर शांत कराया जा रहा था।

# तीन महीने पहले किया था प्रेम विवाह

अनीश ने गोला में तैनात सेक्रेटरी दीप्ति मिश्रा के साथ करीब तीन महीने पहले प्रेम विवाह किया था। इस शादी के खिलाफ लड़की के घरवाले थे मगर दोनों ने आपसी रजामंदी से शादी की थी। हालांकि शादी बड़े धूमधाम से हुई थी और दोनों ही पक्ष के रिश्तेदार भी इसमें शामिल थे।

# मृतक के भाई ने प्रेम विवाह को बताया हत्या की वजह

मृतक के भाई पूर्व ग्राम प्रधान अनिल ने बताया कि मेरे भाई ने तीन महीने को प्रेम विवाह किया था। पत्नी भी सेक्रेटरी पद पर तैनात है। शादी से लड़की पक्ष के लोग नाराज थे हत्या उन्हीं लोगों के द्वारा किया गया है। वहीं पत्नी ने भी अपने मायके पक्ष पर हत्या का आरोप लगाया है।

# विरोध कर पाया था प्रेमी का साथ, तीन महीने में ही उजड़ गया सुहाग

दीप्ति मिश्रा और अनीश ने परिवार व समाज का विरोध कर एक दूसरे का साथ पाया था। अभी तीन महीने पहले ही दोनों साथ हो पाए थे और इतने में ही सुहाग उजड़ गया। पत्नी बेसुध है। उसे समझ नहीं आ रहा है कि अब वह क्या करे। जिसके सहारे उसने समाज से बगावत की थी उसकी लाश को देखते ही वह आपा खो दे रही थी। रिश्तेदार, घरवाले किसी तरह से समझा रहे थे।

# रिश्ता खराब होने पर दर्ज कराया था शोषण का केस

दोनों के रिश्ते में बीच टकराव भी हो गया था। इस दौरान युवती ने अनीश पर शारीरिक शोषण का आरोप लगाते हुए गगहा थाने में केस भी दर्ज कराया था लेकिन इसके बाद ही अनीश ने माफी मांगते हुए साथ रहने की बात कही थी। जिसके बाद युवती ने केस वापस ले लिया था।
Previous articleआपातकाल में सशक्त बने रहने के लिए करें साधना- पूज्य निलेश सिंगबाळ
Next articleखुशखबरी : स्वतंत्रता दिवस से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर फर्राटा भर सकेंगे वाहन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏