पोस्टमार्टम रिपोर्ट खोलेगी जीजा-साली की मौत का राज, जानिए पूरा मामला…

पोस्टमार्टम रिपोर्ट खोलेगी जीजा-साली की मौत का राज, जानिए पूरा मामला…

अलीगढ़।
तहलका 24×7
               थाना बन्नादेवी क्षेत्र के सारसौल स्थित पटाखे वाली गली में जीजा व साली की आत्महत्या के बाद पुलिस कारणों की तलाश में जुटी है। कमरे में जीजा का शव फंदे से झूलता मिला, जबकि साली बेड पर पड़ी थी। पुलिस के मुताबिक, ये स्पष्ट है कि साली ने विषाक्त खाया था। लेकिन, सल्फास के दो पाउच मिले हैं। ऐसे में संभावना है कि जीजा ने भी विषाक्त का सेवन किया। इसकी पुष्टि के लिए पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद होगा।

पटाखा वाली गली निवासी 45 वर्षीय जयप्रकाश घर के पास ही जूते-चप्पल की दुकान चलाता था। इसकी पत्नी प्रवीन तीनों बच्चे को लेकर रक्षाबंधन पर विजयगढ़ के गांव बांके स्थित अपने मायके गईं थीं। वहीं नगला मुरारी निवासी 38 वर्षीय मीरा पत्नी चंद्रपाल जयप्रकाश की साली है। चंद्रपाल गाड़ी चलाता है। शुक्रवार सुबह चंद्रपाल गाड़ी लेकर सादाबाद निकल गए। करीब नौ बजे मीरा घर से दवाई लेने की बात कहकर निकल आई। करीब 12 बजे बजे 15 वर्षीय छोटी बेटी रचना स्कूल से लौटी।
मां नहीं दिखी तो फोन लगाया। लेकिन, फोन स्विच आफ था। करीब साढ़े 12 बजे बड़ी बेटी रश्मि भी घर आ गई। दोनों मां को तलाशते हुए करीब दो किलोमीटर दूर पटाखा वाली गली स्थित अपनी मौसी प्रवीन के घर पहुंचीं। यहां देखा तो कमरे में जयप्रकाश का शव पंखे से झूल रहा था। जबकि मीरा बेड पर पड़ी थी। एसपी सिटी कुलदीप सिंह गुनावत ने बताया कि फोरेंसिक टीम ने भी साक्ष्य एकत्रित किए हैं। कमरे से सल्फास के पाउच मिले हैं। एक गिलास में पेय पदार्थ भी मिला है। दोनों की मौत का कारण पोस्टमार्टम के बाद स्पष्ट होगा। वहीं दोनों के बीच प्रेम प्रसंग की चर्चाएं हैं। इसकी जांच की जा रही है।
Previous articleभाजपा के किसान मोर्चा, युवा मोर्चा, अनुसूचित मोर्चा के अध्यक्षों का किया गया स्वागत
Next articleबरेली : एक किलो अफीम के साथ सास-बहू को किया गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏