39.1 C
Delhi
Saturday, June 15, 2024

शराब तो प्रधान ने साथियों के साथ फौजी को स्कार्पियो से कुचला, अस्पताल में हुई मौत…

शराब तो प्रधान ने साथियों के साथ फौजी को स्कार्पियो से कुचला, अस्पताल में हुई मौत…

# सीआरपीएफ जवान को मरणासन्न हालत में सड़क पर फेंक गए थे आरोपी

# इधर अंतिम संस्कार की तैयारी उधर घर में हो गई चोरी

लखनऊ/कानपुर।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                कानपुर के चौबेपुर में शराब ना पिलाने पर प्रधान व उसके साथियों द्वारा छुट्टी पर घर आए फौजी (सीआरपीएफ जवान) को 3 दिन पूर्व स्कार्पियो से कुचले जाने की घटना में घायल जवान की इलाज के दौरान रीजेंसी अस्पताल में मृत्यु हो गई। फौजी की मौत के बाद पत्नी ने प्रधान समेत चार लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। घायल फौजी सौरभ कठेरिया ने 3 दिन तक मौत से किया संघर्ष, उसकी मृत्यु के बाद गांव में व्याप्त तनाव को देखते हुए कई थानों की पुलिस को तैनात किया गया। 

          घटना के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी

सीआरपीएफ जवान सौरभ कठेरिया 26 जनवरी को छुट्टी पर गांव आया था। 3 दिन पूर्व ग्राम प्रधान व उसके साथी घर से बुला ले गए और शराब पिलाने को कहा था। बताया गया है कि फौजी के इंकार करने पर उन लोगों ने उसे जमकर पीटने के बाद स्कार्पियो से कुचल दिया था। सभी आरोपी अभी फरार हैं। इस घटना का एक और दुखद पहलू ये रहा कि सीआरपीएफ जवान की मौत के बाद उसके घर में चोरी भी हो गई। जवान की अस्पताल में मौत के बाद शव गांव में लाया गया था परिवार के लोग अंतिम संस्कार की तैयार कर रहे थे।

               महिला कांस्टेबल मेघा (फाइल फोटो)

इस बीच रात में चोरों ने उनके नए मकान का ताला तोड़कर नकदी और जेवर चुरा लिए। एक तरफ घर पर रखी अर्थी पर स्वजन बिलख रहे थे तो वही रेलवे स्टेशन के ठीक सामने नए मकान में चोर सेंध लगा रहे थे। चोरों ने मकान का ताला तोड़कर नकदी और जेवर पार कर दिए। सुबह लोगों को घटना की जानकारी हुई तो पुलिस ने छानबीन शुरू कराई है। प्रकरण संज्ञान में आने के बाद एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्तव ने पुलिस को फटकार लगाई है।

              आरोपी कांस्टेबल मनोज कुमार

मालौ गांव निवासी सीआरपीएफ जवान सौरभ कठेरिया को बुधवार रात गांव के स्कार्पियो सवार युवकों ने विवाद के बाद कुचल दिया था। गंभीर रूप से जख्मी सौरभ को रीजेंसी अस्पताल भर्ती कराया गया था, जहां उपचार के तीसरे दिन सौरभ ने दम तोड़ दिया। पिता नन्हा कठेरिया के अनुसार प्रधान वह उसके साथी सौरभ को स्कार्पियो से कुचलने के बाद मरणासन्न हालत में ब्लाॅक आफिस के गेट पर फेंक गए थे। रविवार रात सौरभ का शव घर लाया गया तो घरवालों में कोहराम मच गया।

 

सोमवार की सुबह अंतिम संस्कार होना था, जिसकी वजह से रिश्तेदार रात में पैतृक गांव में ही थे। सौरभ ने रेलवे स्टेशन के ठीक सामने बीते वर्ष नया मकान बनावाया था, जहां उनका परिवार रहता था। घटना के बाद से घर का तालाबंद था। मंगलवार की सुबह पड़ोस के लोगों ने ताला टूटा देख तो घरवालों को सूचना दी। घर के कमरो में बक्से अलमारी टूटे थे। मृतक के भाई ने बताया कि मकान का ताला तोड़कर नकदी, जेवर व सामान चोरी हो गया।
Feb 01, 2021

तहलका संवाद के लिए नीचे क्लिक करे ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓

Loading poll ...

Must Read

Tahalka24x7
Tahalka24x7
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... ?

धार्मिक स्थलों से उतरवाए गए लाउड स्पीकर 

धार्मिक स्थलों से उतरवाए गए लाउड स्पीकर  खेतासराय, जौनपुर।  अजीम सिद्दीकी  तहलका 24x7                धार्मिक स्थलों पर...

More Articles Like This