भव्य श्रीराम मन्दिर निर्माण के इतिहास में कल्याण सिंह सदा किए जाएंगे याद- सीमा द्विवेदी

भव्य श्रीराम मन्दिर निर्माण के इतिहास में कल्याण सिंह सदा किए जाएंगे याद- सीमा द्विवेदी

# कल्याण सिंह को श्रद्धा-सुमन अर्पित कर भाजपाइयों ने दी श्रद्धांजलि

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
              इंडियन मेडिकल एसोसिएशन जौनपुर के सभागार में आज पूर्व मुख्यमंत्री एंव राज्यपाल कल्याण सिंह के निधन पर भाजपा जिलाध्यक्ष की अध्यक्षता में एक शोकसभा का आयोजन किया गया, जिसमें स्वर्गीय कल्याण सिंह के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजल दी गई।

इस दौरान राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी ने कहा की पूर्व मुख्यमंत्री एक कुशल प्रशासक के रूप में योगदान देकर प्रदेश व राष्ट्र के विकास में अपनी महती भूमिका निभाई, पूर्व मुख्यमंत्री एक शिक्षक, संघटक व स्पष्टवादी विचारधारा के धनी थे, संस्मरण का स्मरण करते हुए कहा कि उन्होंने संगठन को महत्त्व दिया और कार्यकर्ता का सम्मान सर्वोपरि रखते थे उनके कुशल नेतृत्व और धनी व्यक्तित्व के राजनीतिक जीवन के सफर को याद किया जाएगा, उन्होंने आगे कहा कि भव्य भगवान श्रीराम मंदिर निर्माण के इतिहास में कल्याण सिंह जी को सूत्रधार के रूप में हर हिंदू ने अपने दिल में बसा लिया है वे अमर रहेंगे।

कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए जिलाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा ने अपना बहुत ही तेजस्वी और हिंदुत्ववादी नेता को खो दिया है। कल्याण सिंह 1991 में पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे और अगले साल बाबरी मस्जिद ध्वंस की घटना के बाद उन्होंने इस्तीफ़ा दे दिया, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने से लेकर सांसद और राज्यपाल जैसी ज़िम्मेदारियों को निभाया, मैं अपने दुख को शब्दों में बयां नहीं कर सकता। कल्याण सिंह जी एक वरिष्ठ प्रशासक, ज़मीनी नेता और एक महान इंसान थे उत्तर प्रदेश के विकास में उनका अमिट योगदान है, कल्याण सिंह जी के निधन से आज हमने एक ऐसा विराट व्यक्तित्व खो दिया जिसने अपने राजनीतिक कौशल, प्रशासकीय अनुभव और विकासोन्मुखी दृष्टिकोण से राष्ट्रीय स्तर पर एक अमिट छाप छोड़ी।

वहीं बदलापुर के विधायक रमेश चन्द्र मिश्र ने कहा कि कल्याण सिंह अपनी सहजता व सरलता के कारण जनता में लोकप्रिय थे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने प्रदेश के विकास को नई गति दी। राजस्थान व हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल के तौर पर उनके सुदीर्घ अनुभव का लाभ दोनों राज्यों को भी मिला। उनका निधन राजनीति के एक युग का अंत है, पूर्व जिलाध्यक्ष अशोक श्रीवास्तव ने कहा कि जन-जन के हृदय में बसने वाले प्रखर राष्ट्रवादी आदरणीय कल्याण सिंह जी जैसा महान व्यक्तित्व ढूंढने पर विरले ही मिलता है।
बाबूजी ने अपनी कर्मठता से विभिन्न संवैधानिक पदों पर रहते हुए किसान, गरीब और वंचित वर्ग को विकास की मुख्यधारा से जोड़कर देश की प्रगति में अपना अनुपम योगदान दिया। पूर्व जिलाध्यक्ष सुशील उपाध्याय ने कहा कि कल्याण सिंह जी उत्तर प्रदेश ही नहीं भारतीय राजनीति की वह क़द्दावर हस्ती थे, जिन्होंने अपने व्यक्तित्व एवं कृतित्व से देश और समाज पर एक अमिट छाप छोड़ी उनका लम्बा राजनीतिक जीवन जनता-जनार्दन की सेवा में समर्पित रहा वे उत्तर प्रदेश के अत्यंत लोकप्रिय मुख्यमंत्री के रूप में जाने गए उनके निधन से आई रिक्तता की भरपाई लगभग असम्भव है ईश्वर उनके शोक संतप्त परिवार को दुःख की इस कठिन घड़ी में धैर्य और संबल प्रदान करे।

पूर्व जिलाध्यक्ष ईश्वर देव सिंह ने कहा कि जनसंघ के समय से ही उन्होंने भाजपा को मज़बूत बनाने और समाज के हर वर्ग तक पहुँचाने के लिए कड़ी मेहनत की श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन में भी उनकी महती भूमिका के लिए उन्हें यह देश हमेशा याद रखेगा। उनका निधन भारतीय राजनीति के लिए बड़ी क्षति है। पूर्व विधायक बांकेलाल सोनकर ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजस्थान के निवर्तमान राज्यपाल व हम सभी कार्यकर्ताओं के मार्गदर्शक व प्रेरणास्रोत आदरणीय कल्याण सिंह ‘बाबूजी’ जी के निधन पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि उनका निधन भारतीय राजनीति एवं भाजपा के लिए अपूरणीय क्षति है।
जिला उपाध्यक्ष सुधाकर उपाध्याय ने कहा कि अपनी विशिष्ट कार्यशैली से उत्तर प्रदेश की राजनीति पर अमिट प्रभाव डालने वाले मृदुभाषी राजनेता और हमारे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह जी का निधन दुःखद है, उनका जो जगह रिक्त हुआ है उसकी भरपाई शायद ही जल्द हो सके। पूर्व जिला उपाध्यक्ष पंकज मिश्रा ने कहा कि कल्याण सिंह भाजपा के संस्थापक सदस्य रहे, राम मंदिर आंदोलन के दौरान उन्होंने तमाम दबाव के बावजूद कार्यसेवकों पर गोली नहीं चलवाई उनके कार्य करने की शैली का लोग लोहा मानते थे।
Previous articleजौनपुर : आगामी 11 सितम्बर को आयोजित होगी राष्ट्रीय लोक अदालत
Next articleजौनपुर : “नीड ब्लड कॉल जेसीज” को सार्थक करते जेसी विनायक
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏