29.1 C
Delhi
Thursday, April 18, 2024

मुझ जैसे पत्थर को हीरा बनाने वाले गुरू को श्रद्धांजलि

मुझ जैसे पत्थर को हीरा बनाने वाले गुरू को श्रद्धांजलि

राजकुमार अश्क 
तहलका 24×7 
           पत्रकारिता जगत के पुरोधा कहे जाने वाले गुरू रविशंकर वर्मा जी ने न जाने कितने लोगों को तराश कर हीरा बनाया है‌। उनकी लेखनी जब भी चलती थी अल्फ़ाज़ खुद अपनी हकीकत बयां कर देते थे। उनकी सत्य लिखने की आदत ने उन्हें जनपद के गिने चुने पत्रकारों में खड़ा कर दिया था।उन्होंने सत्य के साथ कभी समझौता नहीं किया।
स्व. वर्मा जी से पहली मुलाकात मेरे अजीज़ मित्र फैजान अहमद ने अप्रैल 2020 में करवाई थी। मुझे उनकी एक बात हमेशा याद आएगी जो उन्होंने मुझसे पहली बार कहा था, अश्क़ जी आप की लेखनी जब भी चले सच के पथ पर चले। यह ऐसा क्षेत्र है जिसमें लिखना सभी चाहते हैं मगर लिखते क्या हैं यह उन्हें खुद नही पता होता। एक छोटे बच्चे की तरह उन्होंने मेरी ऊगलियां पकड़ कर लिखना सिखाया था। अभी मैं उनसे सीख ही रहा था कि कैंसर जैसी घातक बिमारी ने उन्हें मुझसे दूर कर दिया।
मेरी सबसे पहली खबर शिक्षा विभाग द्वारा प्रकाशित कक्षा छ: की किताब में कुछ महापुरुषों के जीवन परिचय के संबंध में थी। जिसमें बहुत सारी गलतियां थीं वह खबर तहलका पोर्टल के साथ साथ लखनऊ से प्रकाशित होने वाले अखबार हिन्द वतन में भी छपी। उस खबर का ऐसा असर हुआ कि किताबों को खंगालना शुरू किया गया, तब कमियां समझ में आईं। उस खबर को पढ़कर उनके पास किसी बडे़ अधिकारी का लखनऊ से फोन भी आया था।
तब उन्होंने मुझसे कहा था आपकी पहली खबर ने ही पूरे शिक्षा विभाग में तहलका मचा दिया। बस आप इसी तरह लिखते रहिए। उनका इस तरह असमय हमें छोड़ कर चले जाना मेरे लिए व्यक्तिगत बहुत बड़ी क्षति है। ईश्वर उनकी आत्मा को चिर शांति प्रदान कर परिवार को दुःख सहन करने की ताकत दे।

तहलका संवाद के लिए नीचे क्लिक करे ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓

लाईव विजिटर्स

37021557
Total Visitors
386
Live visitors
Loading poll ...

Must Read

Tahalka24x7
Tahalka24x7
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... ?

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय 

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय  सुइथाकला, जौनपुर।  तहलका 24x7               शिक्षा के क्षेत्र में...

More Articles Like This