मोबाइल छीनने व पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार करने के मामले में आरोपी पुलिसकर्मियों पर लटकी कार्रवाई की तलवार

मोबाइल छीनने व पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार करने के मामले में आरोपी पुलिसकर्मियों पर लटकी कार्रवाई की तलवार

# पुलिस ज्वाइंट कमिश्रर हुए सख्त, डीसीपी काशी को 24 घंटे के अंदर जांच कर दिया कार्रवाई का निर्देश

# पत्रकार प्रेस क्लब के सैकड़ों पत्रकार मिले जेसीपी से, आरोपियों के खिलाफ की कड़ी कार्रवाई की मांग

वाराणसी।
मनीष वर्मा
तहलका 24×7
              पत्रकारों के साथ अभद्रता किए जाने के मामले को लेकर सोमवार को पत्रकार प्रेस क्लब के प्रदेश अध्यक्ष घनश्याम पाठक के नेतृत्व में सैकड़ों पत्रकार वाराणसी जिला मुख्यालय पहुंचकर वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस ज्वाइंट कमिश्रर अपराध एवं मुख्यालय सुभाष चंद दुबे से मुलाकात कर उन्हें पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ पत्रक सौंपकर कार्रवाई की मांग की।जेसीपी श्री दूबे ने मामले को गंभीरता से लेते हुए डीसीपी काशी अमित कुमार को 24 घंटे के अंदर जांच कराकर दोषी पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया।इतन ही नहीं जेसीपी श्री दूबे ने डीसीपी काशी को यह भी निर्देशित किया कि तत्कालीन बीएचयू चौकी प्रभारी राजकुमार पाण्डेय द्वारा पीडि़त महिला कल्पना मिश्रा की मोबाइल जबरन लेने व उससे हजारों रुपया नकदी वसूलने के मामले को भी जांच में शामिल कर आरोपी दरोगा के खिलाफ भी कार्रवाई करते हुए मोबाइल भी वापस दिलाने का निर्देश दिया।

बता दें कि 25 जुलाई को तत्कालीन बीएचयू चौकी प्रभारी राजकुमार पाण्डेय ने एक मामूली दुर्घटना होने के मामले में पीड़िता कल्पना मिश्रा के पति शिवकुमार मिश्रा से 12 हजार यह कहते हुए लिया था कि जिसको तुम्हारी बाइक से चोट लगी है उसको इलाज कराने के लिए देना है। शिवकुमार मिश्रा ने तत्कालीन चौकी प्रभारी के डराने धमकाने के कारण 12 हजार रुपया उन्हें दे दिया। उक्त रुपया लेने के बाद चौकी प्रभारी राजकुमार पाण्डेय पीडि़त शिव कुमार से अपने लिए भी रुपयों की मांग करने लगे। पैसा देने से इनकार करने पर राजकुमार पाण्डेय फर्जी मुकदमें में फसाने व एनकाउंटर करने की बात कहकर डराने धमकाने लगे। रुपया न देने पर तत्कालीन चौकी प्रभारी बीएचयू राजकुमार पाण्डेय ने शिवकुमार मिश्रा की नई मोबाइल जबरदस्ती छीन लिया। फोन मांगने पर वे हमेशा पैसे की डिमांड करने लगे और फिर इधर-उधर की बात कहकर मामले को टालते रहे।

इसी प्रकरण को लेकर पीडि़त शिवकुमार मिश्रा व उनकी पत्नी कल्पना मिश्रा पत्रकार अभुलेन्द्र नारायण दूबे व पत्रकार विजय शंकर विद्रोही के साथ बीते 16 अक्टूबर को लंका थाने पर पहुंचकर दरोगा के खिलाफ कार्रवाई के लिए तहरीर दी।विभागीय मामला देखते हुए लंका थाने पर तैनात पुलिसकर्मी द्वारा दोनों पत्रकारों से बेवजह दुर्व्यवहार किया जाने लगा। इस मामले को लेकर जब कार्यवाहक एसएचओ लंका महातम यादव से बात कर शिकायत की गई, तो उन्होंने उक्त पुलिसकर्मी के तरफ से माफी मांगते हुए आरोपी पुलिसकर्मियों को बचाने का प्रयास करने लगे। इसी मामले को लेकर सोमवार को पत्रकारों ने पत्रकार प्रेस क्लब के प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में जेसीपी सुभाष चंद दुबे से मुलाकात कर आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की। जेसीपी सुभाष चंद दुबे ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल मामले की जांच डीसीपी काशी अमित कुमार को सौंपा और पत्रकारों से दुर्व्यवहार करने वाले पुलिसकर्मी पर कड़ी कार्रवाई करने व तत्कालीन बीएचयू चौकी प्रभारी के खिलाफ जांच कर 24 घंटे में सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया।
इस दौरान पत्रकार प्रेस क्लब के प्रदेश अध्यक्ष व परफेक्ट मिशन के संपादक घनश्याम पाठक, प्रदेश उपाध्यक्ष संतोष पाण्डेय व सोनू सिंह, प्रदेश संरक्षक व परफेक्ट मिशन के प्रधान संपादक मनीष दीक्षित, पीपीसी के प्रदेश संरक्षक अभुलेन्द्र नारायण दूबे, प्रदेश प्रवक्ता मुकेश मिश्रा, प्रदेश संगठन मंत्री मदनमोहन शर्मा, प्रदेश सचिव विजय शंकर विद्रोही, प्रदेश सह संगठनमंत्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह, प्रदेश सलाहकार सचिव बृजेश ओझा, प्रदेश मीडिया प्रभारी विनय कुमार पांडेय, पूर्वांचल अध्यक्ष पवन त्रिपाठी, मंडल संरक्षक पप्पू मिश्रा, मंडल अध्यक्ष आफताब आलम, मंडल सचिव संतोष दूबे, जिला संयोजक पंकज चतुर्वेदी, जिलाध्यक्ष वाराणसी पवन पांडेय, जिलाध्यक्ष मऊ राजेश कुमार दूबे, जिला उपाध्यक्ष नवीन प्रधान, वाराणसी जिला सूचना एवं प्रसारण मंत्री लवकेश पांडेय, जिलासचिव आनन्द तिवारी, प्रवीण चौबे व रामबाबू जिला संगठन मंत्री कृष्णा सिंह, जिला सह-संगठन मंत्री जमील अहमद, जिला उपाध्यक्ष विरेन्द्र पाण्डेय, अशोक कुमार सिंह, नवीन द्विवेदी, दिनेश कुमार यादव, कामाख्या पांडेय, अनन्त कुमार वर्मा, अशोक कुमार सिंह, महेश कुमार पांडेय, नितीश कुमार वर्मा, मुकेश उपाध्याय, अश्विनी कुमार दूबे, संतोष कुमार पाण्डेय, त्रिपुरारी यादव, भिष्म कुमार, दीलिप कुमार, विजय जायसवाल, भरतनिधि तिवारी, सुमंत कुमार दूबे, सुफियान अहमद, जिसान अहमद, संजय सिंह, रविकान्त, आकाश कुमार, राजेंद्र गुप्ता, पुष्कर कुमार दीक्षित, अभिषेक पांडेय, विनय कुमार सिंह, ओमप्रकाश चौधरी, सुशांत उपाध्याय, विकाश श्रीवास्तव, अनुराग राय, आदर्श कुमार सहित सैकड़ों पत्रकार साथी मौजूद रहे।

Earn Money Online

Previous articleभरी अदालत के रिकार्ड रूम में दिनदहाड़े वकील की गोली मारकर हत्या
Next articleजौनपुर : अनुसूचित जाति का हित भाजपा में ही सुरक्षित है- राजकुमार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏