“यास” तूफान के मद्देनजर जौनपुर सहित यूपी के 27 जिलों के लिए हाई अलर्ट जारी

“यास” तूफान के मद्देनजर जौनपुर सहित यूपी के 27 जिलों के लिए हाई अलर्ट जारी

# पांच राज्यों के लिए ज्यादा खतरा, नौसेना स्टैंडबाय पर, रेलवे ने रद्द की 25 ट्रेनें

लखनऊ/भुवनेश्वर/कोलकाता।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
             चक्रवर्ती तूफान “यास” के 26 मई को उड़ीसा के तट से टकराने की पूर्व चेतावनी के अनुसार उड़ीसा के बाद पश्चिम बंगाल में इसका व्यापक असर होगा। वैसे पांच राज्यों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। इसी के साथ मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश के 27 जिलों में भी 24 से 28 मई के बीच तूफान की चेतावनी दी है। इसके लिए संबंधित जिलों के लोगों को खुद भी अलर्ट रहने को कहा गया है। मौसम विभाग ने यह भी कहा है कि लखनऊ तक इसका असर देखने को मिल सकता है।

मौसम विभाग की ओर से संबंधित जिलों के‌ लोगों को सलाह दी गई है कि वे मौसम पर निगाह रखें और यथासंभव खुद सुरक्षित स्थान पर रहें। मौसम विभाग की ओर से मुरादाबाद, बिजनौर, अमरोहा, संभल, बदायूं, कासगंज, बहराइच, बाराबंकी, गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, अयोध्या, अमेठी, सुल्तानपुर, जौनपुर, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, संत कबीर नगर, महराजगंज और कुशीनगर जनपद को अलर्ट किया गया है। मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि इसका असर वाराणसी व आसपास के जिलों के साथ ही गोरखपुर, प्रयागराज और लखनऊ तक दिख सकता है। जैस-जैसे यह पश्चिम की ओर बढ़ेगा इसका असर कम होता जाएगा। इस दौरान तेज हवा के साथ बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग के मुताबिक “यास” तूफान अंडमान निकोबार द्वीप समूह, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु जैसे राज्यों में टकराएगा। ताऊक्ते के बाद यास चक्रवात के आगमन को लेकर राहत कार्यों की तैयारियां जोरों पर हैं। बचाव और राहत टीमों को वायुमार्ग से एक स्थान से दूसरे स्थानों पर भेजा जा रहा है और रक्षा विमानों तथा नौसैनिक पोतों को सतर्क रखने को कहा गया है। इस बीच पूर्वी रेलवे ने 24 मई से 29 मई के बीच 25 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। पूर्वी तट पर नौसेना के मानवीय सहायता एवं आपदा राहत समूह (एचएडीआर) द्वारा चार जहाजों और हवाई जहाजों को स्टैंडबाय पर रखा गया है।
Previous articleजौनपुर : गैर इरादतन हत्या का तीसरा आरोपी गिरफ्तार
Next articleकार से मिले इतने नोट कि मशीन से गिने जाने के बाद भी पुलिस को हो गई सुबह से शाम
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏