यूपी : बिकरू कांड में शहीद सिपाही की पत्नी ने लगाया भेदभाव का आरोप

यूपी : बिकरू कांड में शहीद सिपाही की पत्नी ने लगाया भेदभाव का आरोप

# मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र और मेल भेज पूछा ये सवाल…

लखनऊ/कानपुर।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                 गोरखपुर में हुए मनीष हत्याकांड के बाद उनकी पत्नी मीनाक्षी को केडीए में ओएसडी के पद पर नौकरी दिए जाने के बाद बिकरू कांड में शहीद हुए सिपाही राहुल की पत्नी दिव्या ने भेदभाव का आरोप लगा सीएम को पत्र और मेल भेजा है। उन्होंने जल्द जवाब न मिलने पर कोर्ट की शरण लेकर ओएसडी पद पर नौकरी मांगने की बात कही। गुरुवार को पुलिस लाइन में स्मृति दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम को भी पुलिस विभाग की ओर से की जाने वाली रस्म अदायगी बताई।
बताते चलें कि दो जुलाई 2020 की रात बिकरू में बदमाशों के हमले में सीओ देवेंद्र मिश्रा समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने शहीदों के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सरकारी नौकरी, पेंशन और आर्थिक मदद का वादा किया था। सीओ देवेंद्र मिश्रा की बेटी को करीब दो माह पूर्व विभाग में ही ओएसडी पद पर नौकरी दे दी गई थी। सिपाही बबलू कुमार के भाई का भी सिपाही पद के लिए चयन हो गया था। एसआई नेबू लाल, महेश कुमार व सिपाही जितेंद्र पाल के परिजनों ने शासन से समय मांग लिया था। वहीं, शहीद एसआई अनूप सिंह, सिपाही सुल्तान की पत्नियां दौड़ नहीं निकाल सकी थीं।
इसके बाद से उन्हें शासन और विभाग की ओर से कोई आश्वासन नहीं मिला। दिल्ली निवासी सिपाही राहुल की पत्नी दिव्या ने बताया कि उन्होंने दौड़ निकालने के बाद लिखित परीक्षा दी थी, जिसके परिणाम का इंतजार कर रही हैं। उनका कहना है कि एक साल में वह तीन बार सीएम को पत्राचार और मेल भेज चुकी हैं, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। अब तो उन्हें सीएम से मिलने तक नहीं दिया जाता है। पुलिस विभाग की बेरुखी पर नाराजगी व्यक्त की।
दिव्या का कहना है कि सीओ की बेटी को ओएसडी पद पर नौकरी दी गई थी। जब उन्होंने भी ओएसडी पद पर नौकरी मांगी तो पति के सिपाही पद का हवाला दिया गया। ऐसे में मनीष की पत्नी को ओएसडी पद पर नौकरी दिए जाने को लेकर उन्होंने कहा कि जब सभी की जान की कीमत समान है, तो सभी को बराबर हक मिलना चाहिए।

Earn Money Online

Previous articleआजमगढ़ : दुष्कर्मी को मिली 20 वर्ष की कठोर कारावास की सजा
Next articleयूपी में प्राइमरी स्कूलों के बच्चों के अभिभावकों को योगी सरकार देगी 1100 रुपये.. जानें क्या है योजना?
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏