राजनीतिक सन्त थे ठा. कमला प्रसाद सिंह- डॉ विनोद तिवारी

राजनीतिक सन्त थे ठा. कमला प्रसाद सिंह- डॉ विनोद तिवारी

# श्री बजरंग डिग्री, इण्टर व आईटीआई कॉलेज घनश्यामपुर में मनाई गई जयंती

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
                कांग्रेस के पूर्व सांसद ठा. कमला प्रसाद सिंह एक राजनीतिक सन्त थे। उनका सभी दलों के राजनीतिज्ञों से गहरा नाता व हृदयस्पर्शी लगाव था। उनका सम्पूर्ण राजनीतिक जीवन जीवनपर्यन्त बेदाग रहा। वह सच्चे अर्थों में उस वटवृक्ष के समान थे जिसके छांव तले कांग्रेसियों के अलावा अन्य दलों के लोग भी पुष्पित पल्लवित होते रहे उक्त बातें श्री बजरंग इण्टर कॉलेज घनश्यामपुर के प्रधानाचार्य डॉ विनोद कुमार तिवारी ने रविवार को विद्यालय परिसर में आयोजित पूर्व सांसद व प्रबन्धक स्व. कमला प्रसाद सिंह के जन्मदिवस सभा को सम्बोधित करते हुए कही।
उन्होंने कहा शिक्षा के क्षेत्र में बाबू जी द्वारा किये गये योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। उनके द्वारा बताए गए आदर्शों पर चलने के लिए पूरा विद्यालय परिवार कृत संकल्पित है। सर्वप्रथम मंच पर विराजमान सभी विशिष्ट अतिथियों व शिक्षकों ने स्व. कमला सिंह के चित्र पर माल्यार्पण व पुष्प अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित किया।
अंग्रेजी विषय के प्रवक्ता शशि भूषण मिश्रा ने कहा कि वह एक चरित्रवान नेता थे। राजनीति के क्षेत्र में जो पहचान उन्होंने बनायी। वह विरले लोगों को ही नसीब होता है। सच्चे अर्थों में वह जनपद के विकास पुरुष थे। समय की रेत पर चलकर उनके द्वारा छोड़े गए पदचिन्हों की गाथा इतिहास में अमर रहेगी। प्रवक्ता शेरबहादुर मौर्य ने कहा बाबू जी का व्यक्तित्व परिपूर्ण था। वह सादगी, नैतिकता व ईमानदारी की प्रतिमूर्ति थे।
शिक्षक राम सागर सिंह ने कहा ऐसे महापुरुष समाज को सदैव प्रकाशमय करने के लिए ही अवतरित होते है। उन्होंने कविता के माध्यम से स्व. सांसद को श्रद्धासुमन अर्पित किया। पत्रकार अर्जुन शर्मा ने पूर्व सांसद के जीवन कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा वे एक दूरदर्शी व कुशल नेतृत्व क्षमता प्रदान करने वाले राजनीतिज्ञ थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व प्रधानाचार्य राम कीरथ दूबे तथा मंच का कुशक संचालन वरिष्ठ शिक्षक प्रदीप कुमार सिंह ने किया।
अंत मे प्रधानाचार्य डॉ विनोद तिवारी ने आगतों के प्रति आभार जताया। इस मौके पर पूर्व दरोगा सत्यनारायण तिवारी, व्यायाम शिक्षक राघवेन्द्र सिंह, संजय तिवारी, हृदय प्रकाश तिवारी, अशोक तिवारी, संजय चतुर्वेदी, संतोष तिवारी, बीरेंद्र सिंह, राजेश मिश्रा, अजीत सिंह, विजय तिवारी, संतोष चतुर्वेदी, करुणापति दुबे समेत सभी शिक्षक कर्मचारीगण मौजूद रहे।
Previous articleजौनपुर : भाजपा अपनी साख खोकर बन चुकी है झूठ का प्रशिक्षण केन्द्र- राघवेंद्र यादव
Next articleजौनपुर : शव मिलने की सूचना पर हलकान हुई पुलिस, बोरे से निकला मवेशी का शव
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏