राहत भरी खबर ! खत्म होगी पुलिस कार्यालय से थानों तक की दौड़

राहत भरी खबर ! खत्म होगी पुलिस कार्यालय से थानों तक की दौड़

# 15 दिन के अंदर होगा आवेदन का निस्तारण

वाराणसी।
मनीष वर्मा
तहलका 24×7
               वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस में नई व्यवस्था के तहत सिटीजन चार्टर सेल का गठन किया गया है। इससे शस्त्र लाइसेंस के आवेदन, पासपोर्ट वेरिफिकेशन और चरित्र प्रमाणपत्र के लिए अब लोगों को पुलिस कार्यालय से थानों तक की दौड़ नहीं लगानी होगी। आवेदन के निस्तारण के लिए अवधि तय कर दी गई है।

संबंधित अवधि में ही थानों की ओर से रिपोर्ट लगाकर कार्यालय भेजनी होगी। इसके तहत सिटीजन चार्टर सेल गठित करते हुए प्रभारी अधिकारी श्याम बाबू की नियुक्ति भी कर दी गई। पिछली कई शिकायतों पर पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने वर्ष 2020 और 2021 के थाना स्तर पर लंबित आठ सौ से अधिक शस्त्र आवेदन पत्र, दो सौ से अधिक पासपोर्ट वेरिफिकेशन, चरित्र प्रमाणपत्र की रिपोर्ट अभियान चलाकर पखवाड़े भर में खत्म कराई है।

पुलिस आयुक्त के अनुसार लंबित आवेदनों की समीक्षा करने पर पाया गया कि वर्ष 2020 एवं वर्ष 2021 के थाना स्तर पर शस्त्र आवेदन पत्र- 812, पीवीआर 4, सीवीआर 115, एमवीआर 12, जीआर 14, वीआर 208 और पासपोर्ट के 222 आवेदन पत्रों पर कोई कार्य ही नहीं हुआ था।

विशेष अभियान चलाकर सभी थानों को निर्देशित किया गया तो एक जुलाई से अब तक प्राप्त 812 शस्त्र आवेदन पत्रों में से कुल 803 को थाना स्तर से निस्तारित किया गया। इसी प्रकार अन्य को भी शत प्रतिशत निस्तारित कराया गया।

सिटीजन चार्टर के तहत शासन की ओर से पासपोर्ट वेरिफिकेशन के लिए अधिकतम 15 दिन, कैरेक्टर वेरिफिकेशन (पीवीआर, एमवीआर, वीआर) के लिए अधिकतम 15 दिन, कैरेक्टर वेरिफिकेशन (कांट्रैक्टर्स के लिए) अधिकतम 15 दिन और शस्त्र लाइसेंस प्रार्थना पत्र के वेरिफिकेशन के अधिकतम 15 दिन की अवधि तय की गई है।

# कोई पैसा मांगे तो इन नंबरों पर करें शिकायत

शस्त्र आवेदन पत्र, पासपोर्ट वेरिफिकेशन, चरित्र प्रमाणपत्र आवेदन पर रिपोर्ट लगाने के लिए कोई पैसा मांगे तो पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश की ओर से जारी हेल्पलाइन नंबर 7897532425 पर शिकायत व्हाट्सएप के जरिए भेज सकते हैं। इस पर पुलिस आयुक्त तत्काल संज्ञान लेते हुए कार्रवाई करेंगे।
Previous articleजौनपुर : प्रमोद यादव बने समाजवादी लोहिया वाहिनी के प्रदेश उपाध्यक्ष
Next articleअल-कायदा के आतंकियों ने चंदौली समेत चार जिलों से खरीद था असलहा, सुरक्षा तंत्र पर उठे सवाल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏