लूटे गए करोड़ों रुपए, सर्राफ ने बताया 40 लाख की हुई लूट, जले हुए नोट हवा में उड़ने से खुला मामला

लूटे गए करोड़ों रुपए, सर्राफ ने बताया 40 लाख की हुई लूट, जले हुए नोट हवा में उड़ने से खुला मामला

# यूपी में हुई लूट एमपी पुलिस ने किया पौने 2 करोड़ की बरामदगी, 3 लोग गिरफ्तार

# ये भी चर्चा ! बरामदगी में भी 2 करोड़ का खेल? इनोवा के बोनट में छिपाकर ले जा रहे थे नोट

लखनऊ/सिवनी।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                 मध्य प्रदेश के रास्ते महाराष्ट्र और दूसरे राज्यों में काले धन की सप्लाई खूब होती है। मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में स्थित एनएच-44 से कुरई पुलिस ने राहगीरों की सूचना पर एक इनोवा गाड़ी को पकड़ा, जिसके बोनट में 1 करोड़ 74 लाख रुपये छिपा कर रखे गए थे। इस मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। रुपयों की बरामदगी तब हुई जब इनोवा के बोनट से अधजले नोटों को उड़ते देख राहगीरों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। बरामद रुपए यूपी के वाराणसी के एक बड़े ज्वैलर्स के बताए गए हैं।

पौने दो करोड़ रुपयों की बरामदगी निश्चित पुलिस का एक बड़ा गुडवर्क कहा जाएगा। परन्तु इस बरामदगी में दो बड़े झोल भी निकलकर सामने आएं हैं, जहां सर्राफ की ओर से कहा गया कि यूपी के कौशांबी जिले में उसके साथ 40 लाख की लूट हुई, वहीं एमपी पुलिस ने करीब पौने दो करोड़ रुपयों की बरामदगी दिखाई है, तो इस बात की भी चर्चा है कि बरामदगी तो करीब 4 करोड़ की हुई थी, यानि बड़े गुडवर्क में भी 2 करोड़ की “सेटिंग” हो गई ? अब इसमें कितनी सच्चाई है ये तो वाराणसी के सर्राफ ही बता सकते हैं, पर वह भी क्या सच्चाई बतायेगा ? जब उसने खुद 40 लाख लूटे जाने की बात कही और पुलिस ने बरामदगी दिखाई पौने 2 करोड़ की। इस अजीबो-गरीब लूट और बरामदगी से हर कोई हैरान है।


दरअसल मध्यप्रदेश के सिवनी जिले की कुरई पुलिस को राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर चल रहे राहगीरों से सोमवार को सूचना प्राप्त हुई थी कि एक इनोवा कार से जले हुए नोटों को उड़ते हुए देखा गया है। सूचना पाते ही कुरई थाना प्रभारी मनोज गुप्ता ने उक्त संदिग्ध इनोवा को रोक लिया उसके बाद तलाशी ली गई तो नोटों की गड्डियां देखकर पुलिस भी हैरान रह गई। तलाशी के दौरान पुलिस को बड़ी मात्रा में रुपयों के साथ कुछ जले हुए नोट भी मिले। थाना प्रभारी मनोज यादव के अनुसार इनोवा में मिले हरिओम यादव ने बताया कि वह मुंबई में ड्राइविंग का काम करता है, उसका भाई हरिनाथ यादव बनारस में दशरथ सोनी ज्वेलर्स की दुकान में काम करता है।

वो अक्सर बनारस से अपनी गाड़ी में नगद राशि ले जाता है और मुंबई या दिल्ली से सोना-चांदी लेकर बनारस आता है, इस काम के लिए उसे अच्छी राशि मिल जाती है। हरिओम यादव अपनी गाड़ी खराब होने के कारण अपने मित्र सुनील की इनोवा कार MH 01 AH 7264 से मुंबई से रवाना हुआ, रास्ते में हरिनाथ यादव अपने किसी एक आदमी के साथ मोटर साईकिल में आया और उक्त इनोवा कार में नोटों का पैकेट रख कर चला गया, तभी सुकतरा के पास इनोवा कार का इंजन गर्म हो गया और वायर शार्ट होने के कारण आग लग गई, जिससे कुछ नोट भी जल गए, नोट जलने के बाद हवा में उड़ने लगे।

# पकड़े गए आरोपियों में दो जौनपुर जिले के…

राहगीरों की सूचना पर पुलिस ने कार से तीन संदिग्ध जौनपुर के चौधरी सराय निवासी ग्यास अंसारी एवं जौनपुर के ही कुसिया निवासी सुनील वर्मा व आजमगढ़ के रोशनपुर निवासी हरिओम यादव को गिरफ्तार किया। एमपी पुलिस की मानें तो कार से 1 करोड़ 74 लाख के नोट, 1 लाख 87 हजार के आंशिक जले नोट और 500 रुपये के 81 से अधिक नोट जले हुए मिले। सिवनी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश खुरपुसे के अनुसार सिवनी-नागपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर रविवार की रात मोहगांव के नजदीक एक इनोवा कार के अंदर से 1 करोड़ 74 लाख रुपए ही बरामद हुए हैं। पकड़े गए तीनों लोग रुपए लेकर बनारस से मुंबई जा रहे थे। पुलिस ने जब इनोवा की तलाशी ली तो 1.90 लाख रुपए के अधजले 500 के नोट और 500 रुपए के 80 नोट पूरी तर​ह जले हुए भी मिले।

                  बरामदगी की जानकारी देते हुए एसपी सिवनी प्रतीक कुमार

# इंजन की गर्मी से नोटों के बंडल ने पकड़ ली आग…

इनोवा सवार रुपए गाड़ी के बोनट में छिपा कर ले जा रहे थे, गाड़ी के इंजन की तपिश के कारण नोटों के बंडल ने आग पकड़ ली। आरोपियों ने जब हाईवे पर कार रोककर उसका बोनट खोला तो 500 रुपए के अधजले करेंसी नोट हवा में उड़ने लगे, यह देखकर स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी।‌ पुलिस के मुताबिक तीनों आरोपियों ने बताया कि टैक्स बचाने के लिए उन्होने कैश गाड़ी के बोनट में छिपाकर ले जाने का फैसला किया था, ये सारी रकम वाराणसी के ज्वेलर्स की हैं। एमपी की कुरई पुलिस द्वारा इनोवा से जब्त एक करोड़ 74 लाख रुपए के मामले में नया खुलासा करते हुए सिवनी के पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने बताया कि जब्त नोट उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले हुई में लूट की घटना की रकम है। आरोपी हरिओम यादव ने बताया कि वह मुख्यतः बनारस का रहने वाला है और वर्तमान में मुंबई में रहकर वाहन चलाने का काम करता है, उसका भाई हरीनाथ बनारस में दशरथ सोनी ज्वेलर्स की दुकान में काम करता है।

# कर्ज उतारने के लिए रचा गया लूट का नाटक…

यह बात भी निकलकर सामने आई है कि हरिओम व हरिनाथ द्वारा मुंबई में घर खरीदने के दौरान एवं अन्य खर्चों कारण उनके ऊपर काफी कर्ज हो गया था, कर्ज से निजात पाने के लिए दोनों ने मिलकर दशरथ सोनी के कर्मचारियों को लूट कर अपना कर्ज वापस कर देने की एक योजना बनाई। योजना के अनुसार 29 जनवरी को वह मुंबई से निकल पड़े और 30 जनवरी को पूर्व योजना अनुसार इलाहाबाद के चाचा ढाबा जिला कौशांबी उत्तर प्रदेश में पहुंचकर इंतजार करने लगे।

कुछ देर बाद जब हरीनाथ यादव एक अन्य व्यक्ति के साथ स्कॉर्पियो कार से ज्वेलर्स का रुपया लेकर पहुंचा योजना के अनुसार हरिओम ने अपने साथियों के साथ हरीनाथ व उसके साथ आए व्यक्ति को चाकू हथोड़ी छेनी और डंडों से मारपीट कर रुपए वाली गाड़ी लेकर भाग गए और 10 से 12 किलोमीटर दूर जाकर सारा रुपया अपनी इनोवा कार MH 01 AH 7264 में रखकर तीनों मैहर होकर जबलपुर से सिवनी होते हुए मुंबई जा रहे थे तभी कुरई पुलिस ने उन्हे 1 फरवरी को धर दबोचा। मध्य प्रदेश पुलिस ने इनकी गिरफ्तारी व रुपयों की बरामदगी के बारे में उत्तर प्रदेश पुलिस और इनकम टैक्स विभाग को सूचना दे दी है। यूपी के कौशांबी से सीओ डाॅ कृष्ण गोपाल सिंह के नेतृत्व में कौशांबी पुलिस सिवनी पहुंचकर छानबीन कर रही है।


मामले में सबसे बड़ी बात यह है कि जिस लूट की घटना को आरोपियों ने उत्तर प्रदेश के कौशांबी में अंजाम दिया था उस लूट की रिपोर्ट मात्र 40 लाख की लिखाई गई थी जबकि सिवनी पुलिस ने एक करोड़ 74 लाख रुपए नगद व लगभग 2 लाख रुपये के अधजले और 40 हजार रुपये के पूरे जले नोट बरामद किया जाना दिखाया है जो जांच का विषय तो है ही, इस बात की भी चर्चा हो रही है कि इनोवा में पौने दो करोड़ नहीं बल्कि चार करोड़ रुपए की नगदी थी? इसमें सच क्या है ये तो वाराणसी के दशरथ सोनी ज्वैलर्स के मालिक ही बता सकते हैं।
Feb 03, 2021

Previous articleतृषा द्विवेदी की प्रथम कृति “तृषाकृति” पुस्तक का हुआ विमोचन
Next articleजौनपुर : किशोरी की बरामदगी व आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏