वेदानन्द ओझा.. 

वेदानन्द ओझा.. 

प्रकृति ने तुम्हें मानव शरीर देकर तुम्हारे विकास में अपना सहयोग दिया। यहाँ से आगे के विकास की यात्रा तुम्हें अपने पुरुषार्थ से करनी है..

The nature has contributed to your spiritual development by providing you with human body. Now, you ought to make further progress with your own conscious efforts.

वेदानन्द ओझा
365 विधानसभा शाहगंज
ग्राम- त्रिकौलिया खुटहन

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : बूथ समिति और पन्ना प्रमुख मिलकर लिखेंगे सफलता का इबारत- सुब्रत पाठक
Next articleजौनपुर : सशक्त मंडल, सक्रिय बूथ एवं पन्ना प्रमुख की नियुक्ति से संगठन होगा मजबूत- सुब्रत पाठक
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏