24.1 C
Delhi
Thursday, April 18, 2024

सच्चाई के सच्चे प्रहरी थे रवि शंकर वर्मा : उपेंद्र सिंह 

सच्चाई के सच्चे प्रहरी थे रवि शंकर वर्मा : उपेंद्र सिंह 

सुल्तानपुर। 
तहलका 24×7 
           पत्रकारिता जगत में जौनपुर जनपद में अपनी एक अलग पहचान बनाने वाले पत्रकार रविशंकर वर्मा जी का असमय चलें जाना बहुत ही दुखदाई है।18 फरवरी की भोर में 2:30 बजे उनका निधन उनके आवास ओम् शांति गली शाहगंज में हुआ। पिछले कई महीने से वो कैंसर जैसी घातक बीमारी से ग्रसित थे। चार वर्ष पूर्व उनके मुख का आपरेशन भी हुआ। परिवार में दो बेटियां नीतिका, शैलजा पुत्र जतिन और पत्नी अंजू हैं।
47 वर्ष कोई उम्र होती है! इसे ईश्वर का क्रूर नियम कहें की या विधि का विधान। घाट पर जब नौ वर्ष के बेटे जतिन अपने पिता को मुखाग्नि दे रहे थे उस समय सभी की आंखें छलक आयीं। कुछ समय के लिए आंखों के सामने शून्य सा प्रतीत होने लगा। मन को विश्वास नहीं हो रहा था कि कुछ दिन पहले हम सबको जो पत्रकारिता का ककहरा सिखा रहे थे उनसे अब कभी मुलाकात नहीं हो पाएगी।लेकिन शाश्वत चेतना के इस संसार में हमेशा सत्य को स्वीकार करना पड़ता है।
सत्य लिखने और कहने का एक साहस ही तो था जो कभी डिगा नहीं और ना डीगना स्वीकार किया। रवि भैया की वाणी तो खामोश हुई लेकिन हिम्मत ने कभी कमजोर नहीं होने दिया।शरीर ने साथ छोड़ना शुरू कर दिया था पर उनका हौसला बुलंद था। वो आज हम सब के बीच में नहीं हैं परन्तु उनका मार्गदर्शन सदैव साथ रहेगा।विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

तहलका संवाद के लिए नीचे क्लिक करे ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓

लाईव विजिटर्स

37020862
Total Visitors
353
Live visitors
Loading poll ...

Must Read

Tahalka24x7
Tahalka24x7
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... ?

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय 

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय  सुइथाकला, जौनपुर।  तहलका 24x7               शिक्षा के क्षेत्र में...

More Articles Like This