सपा नेता फिरोज पप्पू की हत्या में बाहुबली पूर्व सांसद रिजवान जहीर गिरफ्तार

सपा नेता फिरोज पप्पू की हत्या में बाहुबली पूर्व सांसद रिजवान जहीर गिरफ्तार

# सपा के पूर्व सांसद की बेटी व दामाद की भी गिरफ्तारी की खबर

# विस चुनाव में टिकट पाने में रोड़ा बने हुए थे पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष

लखनऊ/बलरामपुर।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                   यूपी के बलरामपुर से सपा के पूर्व सांसद और पूर्वांचल के बाहुबली नेता रिजवान जहीर को फिरोज पप्पू हत्याकांड में गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में रिजवान जहीर की बेटी और दामाद भी गिरफ्तार हुए हैं। आरोप है कि रिजवान जहीर ने ही अपने दो करीबी शूटरों से फिरोज पप्पू की हत्या कराई थी। बताया जा रहा है कि विधानसभा चुनाव में टिकट पाने में रोड़ा बनने के चलते फिरोज पप्पू की हत्या की गई।
                                    “तहलका 24×7″ पर 5 जनवरी को चली खबर
बताते चलें कि बलरामपुर की तुलसीपुर नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष और नगर पंचायत की अध्यक्ष कहकशां के पति सपा नेता फिरोज खान उर्फ पप्पू की गत मंगलवार/बुधवार की रात अज्ञात हमलावरों ने हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड के बाद पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी हुई थी। पुलिस ने हत्यारों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन भी दिया था। अब पुलिस ने इस मामले का खुलासा करते हुए रिजवान जहीर को गिरफ्तार कर लिया है। खबर लिखे जाने तक पुलिस मामले में विस्तृत जानकारी देने के लिए प्रेस कांफ्रेंस की तैयारी कर रही थी।
                          मृतक फिरोज पप्पू (फाइल फोटो)
कभी रिजवान जहीर के करीबी रहे फिरोज पप्पू को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने खुद‌‌ सपा में शामिल करवाया था। फिरोज पप्पू ने ठेकेदारी, समाज सेवा और राजनीति में बड़ा नाम कमाया। उन्होंने बीते पंचायत चुनावों में अपने चचेरे भाई मुशीर फिरोज खान की भाभी को जरवा बनगाई सीट से जीत दिलाने में कामयाबी हासिल की। पंचायत चुनाव के बाद उन्होने जब अखिलेश यादव से मुलाकात की तो पूर्व मुख्यमंत्री ने खुद फिरोज पप्पू को समाजवादी पार्टी में शामिल करवाया। फिरोज पप्पू ने तकरीबन 50 वर्ष की उम्र में राजनीति बड़ी सफलता हासिल की। करीबी बताते हैं कि वह तुलसीपुर विधानसभा क्षेत्र से टिकट मांग रहे थे।

# पुलिस ने रिजबान‌‌ समेत 6 को बनाया आरोपी…

पुल‍िस ने हत्‍या के मामले में रिजवान जहीर सहित उनकी बेटी जेबा रिजवान और दामाद रमीज नियामत खां सहित 3 हत्यारों को गिरफ्तार किया है। एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया क‍ि वारदात में इस्तेमाल किए गए हथियार भी पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। इस हत्याकांड के खुलासा करने में पुल‍िस को 6 दिन लगे। हत्या के बाद से ही मृतक के परिजनों सहित पूरे तुलसीपुर इलाके में आक्रोश था। इसके चलते पुलिस भी बहुत फूंक-फूंक कर कदम रख रही थी।‌ पुलिस के अनुसार, उनकी टीम ने 250‌ सीसीटीवी कैमरों की मदद से करीब 100 लोगों से पूछताछ की। क्राइम ब्रांच, सर्विलांस सेल की मदद से पुलिस ने पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनके दामाद रमीज नियामत खा, बेटी जेबा रिजवान के सर्विलांस रेकॉर्ड से हत्यारों का पता लगाया। इसके बाद पुलिस ने पूर्व सांसद के लिए काम करने वाले मेहराजुल, महफूज और शकील को गिरफ्तार कर लिया।

                         रिजवान की बेटी जेबा रिजवान

# पूर्व सांसद के घर पर रची गई थी साज‍िश…

एसपी हेमंत कुटियाल के मुताबिक हत्यारों में महफूज और मेहराजुल को घटना से पहले पूर्व सांसद रिजबान जहीर और उनके दामाद रमीज नियामत ने अपने घर पर बुलाया था और वहीं हत्या की साजिश रची गई थी।‌ कहा जा रहा है कि फिरोज पप्पू की तुलसीपुर विधानसभा में बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए रमीज ने हत्या की साजिश रची थी। क्योंकि पूर्व सांसद की बेटी जेबा रिजवान भी तुलसीपुर विधानसभा से सपा के टिकट की दावेदार थी इसीलिए इस घटना को अंजाम दिया गया। ताकि जेबा रिजवान को विधायक बनाया जा सके। इस सनसनीखेज हत्या कांड का खुलासा होने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हत्यारोपियों को गिरफ्तार करने में सीओ (तुलसीपुर) कुंवर प्रभात सिंह, सीओ (सिटी) वरुण मिश्र, एसएचओ (तुलसीपुर), क्राइम ब्रांच समेत कुल 10 टीमें शामिल थी।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : कायस्थ समाज की गौरव किरण को दी गयी भावभीनी श्रद्धांजलि
Next articleजौनपुर : ब्लाक प्रमुख के वाहन ने मारी टक्कर, बाइक सवार गम्भीर
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏