सुल्तानपुर : ऋषि और कृषि संस्कृति का सम्मेलन है सीता राम का विवाह- डॉ मदन मोहन मिश्रा

सुल्तानपुर : ऋषि और कृषि संस्कृति का सम्मेलन है सीता राम का विवाह- डॉ मदन मोहन मिश्रा

# स्वामी विवेकानंद कॉलेज में तीन दिवसीय रामकथा का हुआ समापन

सूरापुर।
मुन्नू बरनवाल
तहलका 24×7
                 प्रभु श्रीराम ऋषि संस्कृति के प्रतीक हैं क्योंकि उनका आगमन यज्ञ प्रक्रिया से हुआ, सीता जी कृषि संस्कृति की प्रतीक हैं क्योंकि उनका आगमन राजा जनक के हल चलाने से हुआ उक्त बातें स्वामी विवेकानंद इंटरमीडिएट कॉलेज हरीपुर में आयोजित तीन दिवसीय श्रीराम कथा महोत्सव के विश्राम दिवस पर व्यासपीठ से डॉक्टर मदन मोहन मिश्र मानस कोविद जी ने व्यक्त किया।डॉ मिश्रा ने कहा कि जब जीव रूपी पिता वर के चरण को धोता है तो अहंकार समाप्त होता है और ममता रूपी बेटी का हाथ नारायण स्वरूप वर के हाथ में समर्पित करता है तो ममता समर्पित होती है।

अहमता और ममता दोनों जब नारायण स्वरूप वर के चरणों में समर्पित हो जाती है तो जीव को ब्रह्म साक्षात्कार हो जाता है। डॉ मिश्र ने कहा कि धनुष भंग होने पर नाराज भगवान परशुराम को भगवान राम ने प्रेम और सद्भावना पूर्वक यथार्थ का परिचय कराया। डॉ मिश्र ने कहा कि क्रोध में अपने विवेक को खोज किससे समझ नहीं पाता इसलिए व्यक्ति को यथार्थ से परिचय कराने के लिए भगवान को प्रेम और सद्भावना का आलंबन करना पड़ता है।

प्रतापगढ़ से पधारे पंडित आशुतोष द्विवेदी जी ने कहा कि नए लोगों के जुड़ने के बाद हमें अपने पुराने लोगों की उपेक्षा नहीं करनी चाहिए प्रभु श्री राम ने शत्रु के भाई विभीषण की सलाह को प्राथमिकता दी जो कार्य का श्रेय स्वयं लेना चाहता है वही रावण है और जो कार्य का श्रेय औरों को देता है वही प्रभु श्री राम है। प्रभु श्रीराम ने अपने व्यवहार के बल पर समाज में समरसता स्थापित की। प्रभु श्रीराम ने अपने व्यवहार से रावण के दूतों का हृदय परिवर्तित कर दिया। परमात्मा निर्मल मन वाले को सहज ही प्राप्त हो जाता है इसलिए व्यक्ति को सत्संग के सरोवर में स्नान करके अपने मन को निर्मल बनाते रहना चाहिए। पं. अनिल पांडे ने कहा कि अपने घरों में अच्छी साहित्य रखने की सलाह दी।

कार्यक्रम का संचालन सामाजिक कार्यकर्ता विजय उपाध्याय ने किया। इस अवसर पर एम.एल.सी. शैलेन्द्र प्रताप सिंह, विधायक राजेश गौतम, रामसूरति पांडे, भाजपा नेता आनंद द्विवेदी, डॉक्टर डी.पी. मिश्रा, मनोज गुप्ता, नीरज सिंह, सिद्धार्थ नारायण सिंह, रितेश दुबे, थानाध्यक्ष अमरेंद्र बहादुर सिंह, श्रीराम पुष्कर, महेंद्र मिश्रा, राजेश विश्वकर्मा, राहुल पांडे, रितेश उपाध्याय सहित हजारों की संख्या में लोग उपस्थित रहे। सभी अतिथियों का स्वागत आयोजक अमरीश मिश्रा ने किया।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : सड़क दुर्घटना में पति-पत्नी एंव पुत्र गम्भीर रूप से घायल
Next articleजौनपुर : बैंक जा रही छात्रा का दिनदहाड़े हुआ अपहरण, मचा हड़कंप
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏