सुल्तानपुर : दो माह बाद पुलिस ने कब्र से निकाला महिला का शव

सुल्तानपुर : दो माह बाद पुलिस ने कब्र से निकाला महिला का शव

# जिलाधिकारी के आदेश पर पुलिस ने शव को भेजा पोस्टमार्टम के लिए 

सुल्तानपुर।
ज़ेया अनवर
तहलका 24×7
                     एक विवाहिता की मौत के दो माह बाद जिलाधिकारी के आदेश पर शव को पुलिस ने रविवार को कब्र से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। विवाहिता की मां ने बेटी की मौत पर संदेह जताते हुए जिलाधिकारी से पोस्टमॉर्टम कराए जाने की मांग की थी। मां की फरियाद पर डीएम ने शव को कब्र से निकलवाकर पोस्टमॉर्टम कराए जाने का आदेश दिया था। रविवार को पुलिस ने तहसीलदार की मौजूदगी में शव को कब्र से निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।

सोनबरसा गांव निवासी सूफी बानो (25) पत्नी शाने उल्ला की 14 जुलाई 2021 को तबीयत खराब हो गई थी। ससुरालीजनों ने इसकी जानकारी उसकी मां अफसरी बेगम निवासी बेलहरी थाना मोतिगरपुर को फोन पर दी थी। परिवारीजन सूफी बानो को पहले निजी चिकित्सालय और फिर जिला अस्पताल ले गए। 15 जुलाई को जब उसकी मां पहुंची तो सूफी की मौत हो जाने की सूचना उन्हें मिली थी। मौत के बाद परिवारीजनों ने शव को गांव के बगल स्थित कब्रिस्तान में दफना दिया था।
इस बीच मृतका की मां को पता चला कि उसकी पुत्री सूफी बानो की मौत संदिग्ध हालात में हुई है। इसके बाद वह 19 अगस्त को जिलाधिकारी के पास पहुंची और बेटी की हत्या की आशंका ससुराली जनों पर जाहिर कर शव के दोबारा पोस्टमॉर्टम किए जाने मांग की थी। जिलाधिकारी ने इसकी रिपोर्ट पुलिस से मांगी थी। पुलिस की रिपोर्ट में बताया गया कि सूफी की मौत बुखार से हुई है। पुलिस की रिपोर्ट के बाद जिलाधिकारी ने शव के दोबारा पोस्टमॉर्टम का आदेश दे दिया। उसके बाद रविवार की दोपहर तहसीलदार सदर विदुषी सिंह और देहात कोतवाल गौरीशंकर पाल की मौजूदगी में शव को कब्र से निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया।
Previous articleकेवल सपा में ही है पिछड़ों, अति पिछड़ों एवं एससी समाज का सम्मान- प्रो. हरीश चंद्र प्रजापति
Next articleजौनपुर : पेड़ से लटकते मिले प्रेमी युगल के शव, क्षेत्र में मची सनसनी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏