सेंट थॉमस कॉलेज के शैलेंद्र कुमार मिश्र हुए “गोस्वामी साहित्य शिल्पी” सम्मान से सम्मानित

सेंट थॉमस कॉलेज के शैलेंद्र कुमार मिश्र हुए “गोस्वामी साहित्य शिल्पी” सम्मान से सम्मानित

शाहगंज।
राजकुमार अश्क
तहलका 24×7
                नगर का अति प्रतिष्ठित विद्यालय सेंट थॉमस इंटर कालेज हमेशा से खबरों की सुर्खियों में बना रहने वाला विद्यालय है कभी अपने विद्यार्थी की उपलब्धि के कारण, तो.. कभी अपने अध्यापक की उपलब्धि के कारण… कुछ दिन पूर्व ही इसी विद्यालय के छात्र अस्मित सेठ को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के अधीक्षक और चिकित्सा अधिकारी ने कोरोना योद्धा के रूप में सम्मानित किया था और उसी समय शैलेंद्र कुमार मिश्र को भी “प्रेमचंद साहित्य भूषण” सम्मान से भी सम्मानित किया गया था।
इसी क्रम में भारत के महान कवि और श्रीराम चरितमानस के रचयिता गोस्वामी तुलसीदास जी के जन्म दिवस के अवसर पर वर्चुअल माध्यम से आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय काव्य रंगोली नवचेतना जागृति साहित्यिक संस्थान ने शैलेंद्र कुमार मिश्र को उनकी उत्कृष्ट काव्य रचना की प्रस्तुति के लिए उन्हें चयनित करके सम्मानित किया है।

सेंट थॉमस के अध्यापक शैलेंद्र मिश्रा अपनी काव्य रचना के लिए पूरे क्षेत्र में मशहूर हैं, इन्होंने अनेकों किताबों की रचना भी है जिसमें मुख्यतः सूर्य चालीसा, बड़ी परेशानी है भाई, देवनागरी हिंदी (काव्य) स्वच्छता का संकल्प (काव्य), कोरोना काल (काव्य) आदि प्रमुख है इनकी एक कहानी संग्रह दुर्घटना से देर भली अभी प्रकाशकाधीन है, विद्यालय परिवार को जब इनकी इस उपलब्धि का पता चला तो पूरे विद्यालय में खुशी छा गयी और शैलेंद्र कुमार मिश्र के शुभचिंतकों का बधाई देने का सिलसिला अनवरत चल पड़ा।
“तहलका 24×7” प्रतिनिधि से विशेष बातचीत में उन्होंने बताया कि मैं हिंदी विषय का एक अध्यापक हूँ और शाहगंज में सेंट थॉमस इंटर कॉलेज में इस समय कार्यरत हूँ, लिखने तथा काव्य पाठ करने का शौक मुझे बचपन से रहा है, मैं भारत देश के इतने बड़े महान कवि गोस्वामी तुलसीदास जी के नाम से आयोजित काव्य प्रतियोगिता में सम्मिलित होकर और सम्मान प्राप्त करके अत्यधिक प्रसन्नता का अनुभव कर रहा हूँ, मैं अपनी खुशी को शब्दों में बयां करने में असमर्थ हूँ।
Previous articleइमाम हुसैन की बरसी पर मजलिस-ए-बरसी का हुआ आयोजन
Next articleजौनपुर : टाइसन की वफादारी ने बचाई मालिक की जान
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏