होटल ले जाकर नवविवाहिता से इंस्पेक्टर ने किया बलात्कार

होटल ले जाकर नवविवाहिता से इंस्पेक्टर ने किया बलात्कार

# मुख्यमंत्री, महिला आयोग से शिकायत और ट्विटर पर मामला वायरल होने के बाद हुई कार्रवाई

# महोबा जाकर आरोपी इंस्पेक्टर को हिरासत में लेकर इटावा लाई पुलिस

लखनऊ/इटावा।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                नवविवाहिता को होटल में ले जाकर उसके साथ बलात्कार करने के आरोपी इटावा कोतवाली में तैनात रहे इंस्पेक्टर महेंद्र पाल सिंह को महोबा से हिरासत में लेकर इटावा लाया गया है। एसएसपी जय कुमार के अनुसार शुरूआती जांच में आरोपी निरीक्षक पर लगे आरोप सही पाए गए हैं। आरोपित इंस्पेक्टर वर्तमान में महोबा के कुलपहाड़ थाने में प्रभारी निरीक्षक के पद पर तैनात है।पीड़िता के अनुसार आरोपी इंस्पेक्टर महेंद्र पाल सिंह स्टेशन रोड स्थित एक होटल में उसे ले गया, यहां उसके साथ दुष्कर्म किया।

उसकी अश्लील फोटो व मोबाइल से वीडियो बनाया, मामले की शिकायत करने पर पति को जेल भेजने की धमकी दी। पीड़िता के मुताबिक 7 फरवरी को फिर इटावा के एक होटल में बुलाकर आरोपी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। मामले में पीड़िता ने 4 अक्तूबर को तत्कालीन एसएसपी को अर्जी दी थी, तब कोई कार्रवाई नहीं की गई। महिला ने आरोप लगाया कि उसके पिता और भाई को जान से मारने की धमकी देकर होटल में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया।
पीड़िता के मुताबिक, वह एक मामले के सिलसिले में आरोपी इंस्पेक्टर से मिली थी। 28 जनवरी 2021 को जब वह थाने पहुंची तो इंस्पेक्टर ने उसके साथ इटावा कोर्ट में बयान देने को कहा। वह उसे एक होटल में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया, उसने उसकी अश्लील तस्वीरें खींचीं और मोबाइल से वीडियो भी बना लिया। पीड़िता की शादी चकरनगर इलाके के एक शख्स से हुई है और वह अपने पति के बीच हुए विवाद के सिलसिले में पुलिस के पास गई थी।इंस्पेक्टर पीड़िता और उसके पति को अपनी कार में 28 जनवरी 2021 को एक होटल में ले गया।

उसने फिर महिला के साथ दुष्कर्म किया और फिर कई मौकों पर घृणित अपराध को दोहराया।अगस्त में इंस्पेक्टर ने महिला के पति से अपनी पत्नी को वापस उसके पास लाने को कहा। साथ ही धमकी भी दी कि अगर वह ऐसा नहीं करेगा तो वो उसकी अश्लील तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर देगा।‌ पीड़िता के पिता ने आरोपी निरीक्षक के लिए कड़ी सजा की मांग की है और कहा है कि उसने उसकी बेटी की जिंदगी बर्बाद कर दी। महिला का बयान अब मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज किया जाएगा।

# इंस्पेक्टर के खिलाफ रेप के साथ पाॅक्सो एक्ट…

नवविवाहिता के साथ जिस समय दुष्कर्म हुआ उस समय वह नाबालिग थी। घटना के समय पीड़िता की उम्र 17 साल 5 महीने व 7 दिन थी। पीड़िता ने इटावा एसएसपी के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व महिला आयोग से भी शिकायत की थी। ट्विटर पर मामले के वायरल होने के बाद पुलिस को हरकत में आना पड़ा। पीड़िता के नाबालिग होने के कारण इटावा पुलिस ने आरोपी इंस्पेक्टर महेन्द्र पाल सिंह के खिलाफ बलात्कार व पाॅक्सो एक्ट की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करने के बाद इंस्पेक्टर को कुलपहाड़ कोतवाली से हिरासत में लिया गया है।
Previous articleजौनपुर : चित्रगुप्त की शोभायात्रा में उमड़ी भीड़
Next articleसुल्तानपुर : धूमधाम से मनाया गया भैयादूज का पर्व
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏