Fact Check : ऑक्सीजन लेवल मेंटेन करने के लिए वायरल पोस्ट होम्योपैथिक दवा “ASPIDOSPERMA Q” के बारे में…

Fact Check : ऑक्सीजन लेवल मेंटेन करने के लिए वायरल पोस्ट होम्योपैथिक दवा “ASPIDOSPERMA Q” के बारे में…

स्पेशल डेस्क।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                   देशभर में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की किल्लत देखने को मिल रही है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। इस पोस्ट के जरिए दावा किया जा रहा है कि होम्योपैथिक दवा ASPIDOSPERMA Q की 20 बूंदें एक कप पानी में लेने से ऑक्सीजन लेवल तुरंत मेंटेन हो जाएगा। तहलका 24×7 न्यूज़ ने पड़ताल में पाया कि वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा भ्रामक है।

दरअसल ASPIDOSPERMA Q होम्योपैथिक दवा अस्थमा रोगी को दी जाती है। यह दवा मरीज के लक्षणों को देख कर दी जाती है, लेकिन वायरल पोस्ट का यह दावा भ्रामक है कि इस दवा को लेते ही तुरंत ऑक्सीजन लेवल मेंटेन हो जाएगा। यह दवा ऑक्सीजन सिलेंडर का विकल्प नहीं है।

# क्या है वायरल पोस्ट में?

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट धड़ल्ले से शेयर हो रही है जिसमें दवा की बोतल की तस्वीर के साथ लिखा गया है कि ऑक्सीजन लेवल गिर रहा है तो ऑक्सीजन मिलने का इंतजार न करके ASPIDOSPERMA Q की 20 बूंद एक कप पानी में देने से ऑक्सीजन लेवल तुरंत मेंटेन हो जाएगा, जो हमेशा बना रहेगा। ये Homeopathic medicine है। Oxygen ढूंढने में समय बर्बाद ना करें।

# तहलका24×7 न्यूज़ की पड़ताल

तहलका24×7 न्यूज़ ने वायरल पोस्ट में किए गए दावे की पड़ताल के लिए सबसे पहले इंटरनेट पर ASPIDOSPERMA Q के बारे में सर्च किया। हमें हेल्थ डेस्क पर एक आर्टिकल मिला, जिसके अनुसार एस्पिडोस्पर्मा एक फूलदार पौधा है और यह साउथ अमेरिका, सेंट्रल अमेरिका, सदर्न मैक्सिको और वेस्ट इंडीज में पाया जाता है। इस पौधे की छाल व पत्तियों का इस्तेमाल होम्योपैथिक दवाइयों में किया जाता है। हालांकि, इस बात के पर्याप्त सबूत नहीं कि एस्पिडोस्पर्मा क्यू ऑक्सीजन लेवल सुधारने में लाभकारी है।

इस संबंध में भारतीय होम्योपैथी मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर भास्कर भट्ट का कहना है कि होम्योपैथी की दवाइयां मरीज के लक्षण देख कर दी जाए तो यह मरीज को रिकवर करने में मदद करती हैं। अगर मरीज की परेशानी व लक्षण देख कर लगता है कि उसे एस्पिडोस्पर्मा दी जानी चाहिए तो हो सकता है कि उसे इससे लाभ हो। एस्पिडोस्पर्मा जैसी ही करीब 20 दवाइयां हैं, जिससे ब्रॉन्कियल अस्थमा, कार्डिक अस्थमा और ऑक्सीजन रिडक्शन के मरीजों की मदद की जाती है, लेकिन इनमें से कोई भी दवाई ऑक्सीजन का विकल्प नहीं हो सकती। इन दवाइयों से लंग्स की कैपेसिटी को बढ़ाया व सुधारा जा सकता है, लेकिन अगर ऑक्सीजन की कमी है तो ऑक्सीजन ही दी जानी चाहिए।

डॉ विशेष राय
हमने प्रयागराज के ख्यातिलब्ध होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ विशेष राय से भी संपर्क किया। उन्होंने भी हमें बताया कि वायरल पोस्ट में जिस दवा का जिक्र किया जा रहा है वह दवा अस्थमा पेशेंट्स को दी जाती है। बेशक यह कोई जादू की छड़ी नहीं है कि यह दवा देते ही ऑक्सीजन लेवल तुरंत ठीक हो जाएगा। कोविड के मरीज जिन्हें ऑक्सीजन की जरूरत है उन्हें ऑक्सीजन ही दी जानी चाहिए। यह दवा उसका विकल्प नहीं है। सलाह यही है कि होम्योपैथी की कोई भी दवा बिना डॉक्टर की सलाह के न लें। डॉ. राय ने हमें यह भी बताया कि उन्होंने अभी तक किसी कोविड पेशेंट को ASPIDOSPERMA Q सजेस्ट नहीं की है।

# तहलका24×7 न्यूज़ निष्कर्ष

हमारी पड़ताल में यह साफ हुआ कि होम्योपैथिक दवा ASPIDOSPERMA Q ऑक्सीजन का विकल्प नहीं है, लिहाजा कोरोना पेशेंट इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें। हमें आयुष मंत्रालय का एक ट्वीट भी मिला, जिसमें यह साफ किया गया है कि ASPIDOSPERMA Q दवा को लेकर वायरल हो रहा दावा भ्रामक है।

Previous articleकोरोना संक्रमण के चलते यूपी में दो दिन का फिर बढ़ाया गया लाॅकडाउन
Next articleजौनपुर : यूबीआई बैंक में उड़ रही है कोरोना गाइडलाइंस की धज्जियां
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏