50 लीटर दूध दुहवा लो, 500 गोबर का गोइंठा बनवा लो…

50 लीटर दूध दुहवा लो, 500 गोबर का गोइंठा बनवा लो…

# महारानी का यह डायलॉग मचा सकता है बिहार में हलचल…

पटना।
स्पेशल डेस्क
तहलका 24×7
               हमसे 50 लीटर दूध दुहवा लो, 500 गोबर का गोइंठा बनवा लो, पर एक दिन में इतनी फाइल पर अंगूठा लगाना, ना….. हमसे ना हो पाएगा। बिहार की महारानी का यह डायलॉग हंगामा मचाने को काफी साबित हो सकता है। और भी सुनिए… यहां इतने मर्द लोग काहे हैं, हमको ऐसी मर्दाना सरकार का मुख्‍यमंत्री क्‍यों बना दिए….। पहली बार कोई औरत सीएम बनी है, स्‍वागत तो करना पड़ेगा…। पटना का सचिवालय और बिहार विधानसभा का भवन, मुख्‍यमंत्री निवास की हलचल…। पॉलिटिकल मसाला के लिए और चाहिए ही क्‍या? ये सब देखने को मिला आज ही जारी हिंदी की बहुचर्चित वेब सिरीज महारानी के आधिकारिक स्‍ट्रीमिंग में।

# बिहार की पहली मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी का दिखता है अक्‍स

इस वेब सिरीज में बिहार की पहली महिला मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी का अक्‍स दिखता है, जिन्‍हें उनके पति लालू प्रसाद यादव के चारा घोटाले के मामले में फंसने के बाद सीधे राज्‍य के सीएम के पद की बागडोर मिली थी। फिल्‍म से जुड़े लोग इस पर साफ-साफ कुछ कहने से बचते हैं, लेकिन पूरा कथानक, फिल्‍म के दृश्‍य और डायलॉग खुद ब खुद बताते हैं कि फिल्‍म किससे प्रेरित है।

# बिहार की राजनीति और पहली महिला मुख्‍यमंत्री की चर्चा

यह वेब सिरीज बिहार के राजनीतिक माहौल को केंद्रित कर तैयार की गई है। इसकी आधिकारिक स्‍ट्रीमिंग जिस चैनल के जरिये दिखाई गई, उसने अपने ट्विटर हैंडल पर इसे शेयर करते हुए साफ लिखा है कि यह 90 के दशक में क्षेत्रीय क्षत्रपों के बीच खड़ी हो रही एक आवाज की कहानी है। एक अशिक्षित महिला ने कैसे इस माहौल में रास्‍ता बनाया? बाकी वेब सिरीज की स्‍ट्रीमिंग में जो डॉयलाग आए हैं, जो सीन दिखाए गए हैं, उन्‍हें तो आप जान ही चुके हैं।

# लालू-राबड़ी परिवार से जोड़े जाने पर कई तरह की राय

इस वेब सिरीज का नाम सर्च करने पर आपको जो भी डिटेल मिलेगी, उनमें से ज्‍यादातर में यह साफ है यह कथानक लालू-राबड़ी परिवार से प्र‍ेरित है। इस वेब सिरीज के नाम से विकीपीडिया पर हिंदी और अंग्रेजी में जो पेज बने हैं, उनमें भी साफ तौर पर जिक्र किया गया है कि वेब सिरीज की कहानी लालू-राबड़ी से प्रेरित है। कई लोग इसे लालू-राबड़ी परिवार के महिमा मंडन का प्रयास मानते हैं तो कुछ इसे उनके परिवार की छवि से खिलवाड़ करने वाला भी। फिल्‍म में चारा घोटाले की तर्ज पर दाना घोटाले का जिक्र है।

# बुद्ध स्‍मृति पार्क से होती है स्‍ट्रीमिंग की शुरुआत

इस वेब सिरीज की स्‍ट्रीमिंग की शुरुआत पटना जंक्‍शन के ठीक सामने स्थित बुद्ध स्‍मृति पार्क से होती है। हम आपको यहां यह बता देना जरूरी समझते हैं कि 90 के दशक में यहां बांकीपुर जेल हुआ करती थी। बिहार में निजाम बदलने के बाद मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्‍व वाली सरकार ने यहां पार्क का निर्माण कराया।

# फिल्‍म से जुड़े लोग राबड़ी पर आधारित होने से करते इंकार

इस फिल्‍म में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाने वाले जाने-माने अभिनेता विनीत कुमार कहते हैं कि यह फिल्‍म राबड़ी देवी पर नहीं है। यह एक राजनीतिक कहानी है। कहानी का बेस बिहार से जुड़ा होने के कारण लोग इसे राबड़ी से जोड़ देते हैं। इसके पीछे एक वजह यह भी है कि बिहार में राबड़ी के अलावा कोई दूसरी महिला मुख्‍यमंत्री हुई नहीं है। यह मौजूदा राजनीति की कहानी है और किसी खास व्‍यक्ति से कोई लेना-देना नहीं है।

# वेब सिरीज में दिखेंगे कई बड़े कलाकार

इस वेब सिरीज में हुमा कुरैशी, सोहम शाह, अमित सायल, प्रमोद पाठक आदि कलाकारों का अभिनय भी देखने को मिलेगा। इस वेब सिरीज के निर्माता सुभाष कपूर, निर्देशक करन शर्मा, सह निर्माता नरेन कुमार और डिंपल खरबंदा हैं। वेब सिरीज की ज्‍यादातर शूटिंग जम्‍मू में हुई है।
Previous articleसुल्तानपुर : दुर्घटना को दावत दे रहे महीने भर से लटके पीडब्ल्यूडी बोर्ड को किया दुरुस्त
Next articleबिकरू कांड : विकास दुबे के कैशियर के साथ यूपी के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी की फोटो मिलने से बढ़ी सरगर्मी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏