जौनपुर : टिकट न मिलने पर बागी हुए प्रसपा विधानसभा प्रभारी

जौनपुर : टिकट न मिलने पर बागी हुए प्रसपा विधानसभा प्रभारी

# एआईएमआईएम से मिलाया हाथ, हो सकते हैं प्रत्याशी

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान दलबदल की होड़ के बीच प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के शाहगंज विधानसभा प्रभारी रमाशंकर यादव झूरी ने पार्टी छोड़ दी है और एआईएमआईएम का हाथ थाम लिया है। माना जा रहा है कि पार्टी उन्हें शाहगंज विधानसभा सीट से प्रत्याशी घोषित कर सकती है।
बताते चलें कि रमाशंकर यादव झूरी शाहगंज स्थित छताई कलां के ग्राम प्रधान हैं। वो शिवपाल यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के पिछड़ा वर्ग के प्रदेश सचिव थे और शाहगंज विधानसभा प्रभारी की जिम्मेदारी संभाल रहे थे। उन्होंने प्रसपा और सपा के बीच गठबंधन होने के बाद शाहगंज सीट पर उम्मीदवारी के लिए दावा भी किया था लेकिन यह सीट सीटिंग विधायक शैलेंद्र यादव ललई के ही हिस्से आई। इसके बाद बदले घटनाक्रम के तहत रमाशंकर यादव ने सोमवार को लखनऊ में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण कर ली। रमाशंकर का कहना है कि उन्होंने पार्टी के चुनाव चिन्ह पर शाहगंज विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है और उन्हें पूरा भरोसा है कि प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली उन्हें चुनाव लड़ने का मौका जरूर देंगे।

# ..तो सपा को होगा नुकसान

रमाशंकर यादव की दावेदारी अगर स्वीकार हो जाती है और एआईएमआईएम के टिकट पर यादव उम्मीदवार मैदान पर उतरता है तो समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी शैलेंद्र यादव ललई को नुकसान होना निश्चित है। रमाशंकर का क्षेत्र में ठीक-ठाक प्रभाव है, वो प्रधान संघ के अध्यक्ष भी है, ऐसे में अगर वो एआईएमआईएम से उम्मीदवार होते हैं तो सपा के कोर यादव और मुस्लिम वोटबैंक में सेंध लगना निश्चित है। पार्टी पहले ही जौनपुर सदर, शाहगंज और मछलीशहर से चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुकी है।

लाईव विजिटर्स

27284382
Live Visitors
1960
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : कोहरे के चलते ट्रक की चपेट में आने से बाइक सवार किशोर की दर्दनाक मौत
Next articleजौनपुर : मछली खरीदने गए युवक की बाइक चोरी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏