जौनपुर : बच्चों के लिए वरदान है टीकाकरण- आईएमए

जौनपुर : बच्चों के लिए वरदान है टीकाकरण- आईएमए

# 12 गंभीर बीमारियों से होती है सुरक्षा, बढ़ाता है रोग प्रतिरोधक क्षमता

1दो वर्ष तक के बच्चों व गर्भवती का अवश्य कराएँ टीकाकरण

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                  इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने जनपद वासियों से बच्चों के नियमित टीकाकरण की खूबियां बताते हुए अपील किया है कि दो वर्ष तक के सभी बच्चों व गर्भवती का सघन मिशन इंद्रधनुष एवं नियमित टीकाकरण अभियान के अंतर्गत टीकाकरण जरूर कराएं, यह पूरी तरह से निःशुल्क है।आईएमए के जिलाध्यक्ष तथा जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ नरेंद्र सिंह ने कहा कि टीकाकरण बच्चों के लिए वरदान है। टीकाकरण बच्चों को गंभीर बीमारियों की जटिलताओं से बचाता है। क्षयरोग, गलाघोंटू, कालीखांसी, टिटनेस, पोलियो, हेपेटाइटिस-बी, निमोनिया, दिमागी बुखार, खसरा, रुबेला और डायरिया जैसी बीमारियों की रोकथाम टीके से ही संभव है।

इसके साथ ही उन्होंने इन बीमारियों के संबंध में अपना अनुभव साझा किया और कहा कि दुख होता हक जब कोई बच्चा इन बीमारियों से ग्रसित देखने को मिलता है। टीकाकरण की कार्यप्रणाली को सरल शब्दों में कहा जा सकता है कि नियमित टीकाकरण प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करके शरीर की रक्षा प्रणाली को सक्रिय करता है। इसके चलते जब बाहरी रोग शरीर में प्रवेश करने का प्रयास करते हैं तो हमारा प्रतिरक्षा तंत्र उनको मार भगाता है। इससे बच्चों को जानलेवा बीमारियों का खतरा कम हो जाता है और बच्चे स्वस्थ रहते हैं। बच्चे स्वस्थ रहें और परिवार खुशहाल रहे इसके लिए जरूरी है कि समय रहते दो वर्ष तक के सभी बच्चों एवं गर्भवती का मिशन इंद्रधनुष एवं नियमित टीकाकरण के अंतर्गत टीकाकरण अवश्य कराएं।

 

यह टीकाकरण अभियान पूरी तरह नि:शुल्क है। इसके साथ ही 12 से 14 वर्ष तथा 15 से 17 वर्ष तक के सभी बच्चों का कोविड टीकाकरण भी जरूर करवाएं और देश व प्रदेश को कोविड मुक्त बनाने में सहयोग करें।डॉ नरेन्द्र सिंह ने बताया कि जनपद में दो वर्ष तक के 13,347 छूटे बच्चों का टीकाकरण करवाने के प्रयास के साथ ही नियमित टीकाकरण भी चल रहा है। इसके तहत दो वर्ष तक के 21,337 बच्चों को टीका लगाया जा चुका है। इसके साथ ही छुटी हुईं 4,471 गर्भवती एवं नियमित टीकाकरण के अंतर्गत 5,787 गर्भवती का टीकाकरण किया जा चुका है।

# कोविड टीकाकरण की स्थिति

जनपद में अब तक कुल 71,59,274 से ज्यादा डोज लग चुकी है। 39,86,887 से ज्यादा लोगों को पहली डोज लग चुकी है जबकि 31,78,487 को दूसरी डोज तथा 52,991 को एहतियाती डोज लग चुकी है। अभी तक 12 से 15 वर्ष के लोगों को 60,967 डोज का टीकाकरण हो चुका है। 15 से 18 वर्ष के किशोरों को 5,40,513 डोज का टीकाकरण हो चुका था। इसमें से 2,99,863 को पहली डोज तथा 2,40,650 को दूसरी डोज लग चुकी है। 18 से 44 वर्ष के लोगों को कुल 42,39,875 डोज लग चुकी है जिसमें से 24,05,724 को पहली डोज तथा 18,34,151 को दूसरी डोज का टीका लग चुका है। 45 से 60 वर्ष की उम्र के लोगों को कुल 13,50,391 डोज लग चुकी है। 6,91,898 को पहली डोज तथा 6,58,493 को दूसरी डोज लगी है। 60 वर्ष से ऊपर के लोगों को 8,59,584 डोज लगी है जिसमें से 4,41,135 लोगों को पहली डोज तथा 4,16,446 को दूसरी डोज और 23,054 को एहतियाती डोज लगी है।

लाईव विजिटर्स

27340364
Live Visitors
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : धूमधाम से मनाई गई श्रीराम नवमी, चहुंओर वातावरण हुआ राममय
Next articleजौनपुर : दिनदहाड़े महिला के गले से सोने की चैन छीन भागे उचक्के
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏