जौनपुर : बलिया में पत्रकार उत्पीड़न से केराकत के पत्रकारों में आक्रोश

जौनपुर : बलिया में हुए पत्रकार उत्पीड़न से केराकत के पत्रकारों में आक्रोश

# एसडीएम को पत्रक सौंप कार्यवाही की मांग की

# उचित कार्यवाही न होने पर प्रदेश स्तर पर आंदोलन को होंगे बाध्य

केराकत।
विनोद कुमार
तहलका 24×7
                 पत्रकार को देश का चौथा स्तंभ कहा जाता है पर आलम ये है कि लगभग हर रोज देश के कोने कोने से पत्रकारों पर उत्पीड़न का मामला देखने व सुनने को मिल ही जाता है। ऐसा ही एक मामला बलिया में पत्रकारों के साथ हुआ जिसको लेकर प्रदेश भर के पत्रकार में आक्रोश का माहौल व्याप्त है।

जिसके मद्देनजर उप जिलाधिकारी कार्यालय पर शुक्रवार की अपराह्न पत्रकार संघ केराकत अध्यक्ष अमित सिंह के नेतृत्व में बलिया जनपद के अमर उजाला अखबार के पत्रकार के साथ हुए उत्पीड़न के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया गया। गौरतलब है कि बलिया जिले में भ्रष्ट सरकारी अफसरों की सरपरस्ती में फल फूल रहे शिक्षा माफियाओं ने विगत दिनों बलिया जनपद के बोर्ड का पेपर लीक कर दिया, खूब माल कमाया। जनकारी होने पर पत्रकारों ने अपने गोपनीय सूत्रों से साक्ष्य जुटाकर पेपर लीक की खबर को प्रमुखता से छाप दिया। खबर छपते ही अधिकारियों की किरकिरी बढ़ गयी। जिससे खुन्नस खाये नौकरशाहो ने पत्रकार अजित ओझा, दिग्विजय सिंह, मनोज गुप्ता के ऊपर संगीन धाराओं में फर्जी मुकदमा दर्ज कर बर्बर कार्यवाई किया।

पत्रकारों के ऊपर हुई बर्बरता से क्षुब्ध केराकत तहसील के पत्रकारों ने उप जिलाधिकारी राजेश कुमार चौरसिया को मुख्यमंत्री और राज्यपाल को सम्बोधित एक पत्रक देकर पत्रकार उत्पीड़न के आरोपियो के खिलाफ कार्यवाई की माँग किया। वहीं उचित कार्यवाई न होने पर प्रदेश स्तर पर आंदोलन की चेतावनी दिया। इस अवसर पर केतन विश्वकर्मा, रामजनम पटेल, ज्ञान प्रकाश पाण्डेय, अवनीश वर्मा, योगेन्द्र यादव, दिलीप विश्वकर्मा, अनूप शुक्ला, आरिफ अंसारी, फिरोज अंसारी, धीरज सोनी, अरविंद यादव, पुष्पेंद्र सिंह, प्रवीण कुमार, प्रभात यादव, रामफेर शर्मा समेत तमाम पत्रकार उपस्थित रहे।

लाईव विजिटर्स

27297981
Live Visitors
6515
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : विभिन्न थानों की पुलिस ने 77 वारंटी व 04 वांछितों को किया गिरफ्तार
Next articleजौनपुर : एमएलसी चुनाव के मद्देनजर मतदान केंद्रों का किया निरीक्षण
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏